बेटे की तलाश में रात 2 बजे शायर मुनव्वर के घर पहुंची पुलिस

243 0

मशहूर शायर मुनव्वर राना के के बेटे तबरेज को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस गुरूवार देर रात करीब 2 बजे उनके घर पहुंच गई। परिजनों का कहना है कि पुलिस से तलाशी के संबंध में सवाल पूछे गए तो उसने कुछ भी नहीं बताया और सबके फोन छीन लिए। रायबरेली जिले के सदर कोतवाल का दावा है कि 28 जून को शायर मुनव्वर के बेटे तबरेज राना पर हुआ जानलेवा हमला फर्जी था।

रायबरेली पुलिस ने कहा- तबरेज ने अपने चाचा और चचेरे भाइयों को फंसाने के लिए खुद पर गोली चलवाई, पुलिस तबरेज की तलाश कर रही। मुनव्वर राना की बेटी और कांग्रेस नेता फौजिया राना ने प्रशासन पर बदले की कार्रवाई का आरोप लगाया हो और मदद की अपील की है।

अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त शायर मुनव्वर राना मूल रूप से यूपी के रायबरेली के रहने वाले हैं। लेकिन लंबे समय से लखनऊ में रहते हैं। उनका बेटा तबरेज भी उनके साथ ही रहता है। तबरेज का जमीन का काम है। अब बताते हैं 28 जून 2021 की घटना के बारे में। रायबरेली में त्रिपुला चौराहे के पास गोलियां चलीं। अचानक फायरिंग से हड़कंप मच गया. पता चला कि मशहूर शायर मुनव्वर राना के बेटे तबरेज राना पर कुछ बाइक सवार बदमाशों ने फायरिंग कर दी है।

त्रिपुला के पेट्रोल पंप के पास दो राउंड फायर किए गए। दोनों गोलियां तबरेज की गाड़ी में लगीं। फायरिंग के बाद हमलावर भागने में कामयाब रहे। पुलिस ने जांच शुरू की। चश्मदीदों के बयान लिए। घटनास्थल पर मौजूद सीसीटीवी के फुटेज निकलवाए गए। और बदमाशों की तलाश की जाने लगी। घटना के बारे में राना ने पुलिस को बताया कि उनकी किसी से रंजिश नहीं है।

Related Post

सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार को फटकारा, कहा- आजादी के इतने वर्ष बाद भी राजद्रोह कानून क्यों?

Posted by - July 15, 2021 0
देशद्रोह विरोधी कानून की संवैधानिक वैधता को लेकर गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई जहां जजों ने केंद्र सरकार…

प्रधानमंत्री ने हाफिज का पाकिस्तान की राजनीति से जुड़ना बताया चिंताजनक

Posted by - November 14, 2018 0
सिंगापुर। प्रधानमंत्री मोदी बुधवार को आसियान समिट में हिस्सा लेने सिंगापुर पहुंचे वहां उन्होंने अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस से…