BPF

असम चुनाव : तामुलपुर में वोट टालने के लिए कांग्रेस की सहयोगी पार्टी पहुंची सुप्रीम कोर्ट

173 0

नई दिल्ली। असम विधानसभा चुनाव में तामुलपुर सीट (Tamulpur Poll) से असम बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट पार्टी (BPF) के उम्मीदवार रंगजा खुंगुर बासुमतरी ने मतदान से एक सप्ताह पहले और नामांकन वापस लेने की तारीख निकलने के बाद भाजपा ज्वाइन कर ली।  इसके बाद इस सीट पर मतदान आगे बढ़ाने की मांग के साथ BPF रविवार को सुप्रीम कोर्ट पहुंची है। तामुलपुर सीट पर असम विधानसभा चुनाव के आखिरी चरण में मंगलवार को वोट डाले जाएंगे।

 

बीजापुर मुठभेड़ मामले में अमित शाह ने CM भूपेश बघेल से की बात

शुक्रवार को BPF हाग्रामा मोहिलारी ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को दूसरा खत लिखकर इस सीट से BPF का उम्मीदवार बदलने की इजाजत मांगी थी।

उन्होंने पत्र में लिखा था, ‘मेरी पार्टी के उम्मीदवार ने वोटिंग से कुछ दिन पहले ही दल बद लिया। अब वह BPF के चुनाव निशाना से वोट पाने के हकदार नहीं हैं।’

उन्होंने यह भी कहा कि नामांकन वापस लेने की अंतिम तारीख के बाद बासुमतरी का दल बदलना एक “धोखाधड़ी’, जिसने “चुनावों में निष्पक्षता की का उल्लंघन किया।

उन्होंने कहा, ‘…स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव के हित में… माननीय आयोग से अनुरोध है कि BPF  को तामुलपुर से अपने उम्मीदवार को तुरंत बदलने की अनुमति देने पर विचार करें और पार्टी के प्रतीक को एक नए उम्मीदवार को आवंटित करें।’

रंगजा खुंगुर बासुमतरी ने असम के मंत्री हेमंत बिस्वा और केंद्रीय नरेंद्र सिंह तोमर की मौजूदगी में भाजपा ज्वाइन की थी। बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट पहले भाजपा की ही सहयोगी पार्टी थी। BPF ने भाजपा का साथ छोड़कर फरवरी कांग्रेस का साथ पकड़ लिया था।

Related Post