Ashadh Purnima

Ashadh Purnima: कब है आषाढ़ पूर्णिमा? जानें स्नान-दान मुहूर्त

146 0

लखनऊ: आगामी 13 जुलाई दिन बुधवार को आषाढ़ पूर्णिमा (Ashadh Purnima) है और इस दिन व्रत रखकर भगवान विष्णु की पूजा की जाती हैं। आषाढ़ पूर्णिमा (Ashadh Purnima) के दिन वेद व्यास जी का जन्म हुआ था, इसलिए इस दिन व्यास जयंती मनाते हुए पूजा की जाती हैं। इस दिन गुरुजनों की पूजा करने का विधान है। व्यास जी ने वेदों का विभाजन किया, पुराणों की रचना की, इस वजह से आषाढ़ पूर्णिमा तिथि को गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) मनाते हैं। इस दिन पवित्र नदियों में स्नान करने से पाप नष्ट होते और दान करने से पुण्य की प्राप्ति होती है।

आषाढ़ पूर्णिमा

आषाढ़ पूर्णिमा तिथि का प्रारंभ 12 जुलाई, मंगलवार, शाम 06:30 बजे से 13 जुलाई, बुधवार, दोपहर 02:36 बजे पर समापन होगा।

इन्द्र योग: 13 जुलाई, दोपहर 12:45 बजे तक

चन्द्रोदय समय: 13 जुलाई, शाम 07:20 बजे

पीएनबी ने पीएनबी रक्षक प्लस योजना के लिए भारतीय वायुसेना के साथ किया करार

आषाढ़ पूर्णिमा स्नान-दान मुहूर्त

आषाढ़ पूर्णिमा के दिन पवित्र नदियों में स्नान करके दान करें। इन्द्र योग को धार्मिक कार्यों की दृष्टि से शुभ माना जाता है। इस दिन भद्रा सुबह 05 बजकर 32 मिनट से दोपहर 02 बजकर 04 मिनट तक है। इस दिन का राहुकाल दोपहर 12 बजकर 27 मिनट से दोपहर 02 बजकर 10 मिनट तक है।

40 से अधिक बंद पड़े पैरामेडिकल प्रशिक्षण केंद्र का योगी सरकार दोबारा करेगी संचालन

Related Post

kashi vishwanath dham

सिर्फ काशी विश्वनाथ धाम के दर्शन ही नहीं तीर्थ यात्री कर सकेंगे 10 प्रकार की पावन यात्राएं

Posted by - August 27, 2022 0
वाराणसी। अब काशी (Kashi) आने वाले तीर्थ यात्री केवल विश्वनाथ धाम (Kashi Vishwanath Dham) और शहर के चुनिंदा मंदिरों में…