Lord Shri Ram

भारत के अलावा इस देश में भगवान श्रीराम को प्राप्त है आदर्श का दर्जा

409 0

नई दिल्ली। भारत के अलावा दुनिया में इंडोनेशिया एक मात्र ऐसा देश है। जहां भगवान श्रीराम (Lord Shri Ram)  वहां की जनता के दिल में आदर्श महामानव के तौर पर अंकित हैं। यह बेहद खास है इसलिये भी कि इंडोनेशिया में दुनिया के सबसे ज्यादा मुस्लिम रहते है। भारत में जब भगवान श्रीराम के जन्मस्थान और अस्तित्व को लेकर चर्चा तेज रहती है। तब इंडोनेशिया का उदाहरण एक मिशाल से कम नहीं है।

बता दें कि इंडोनेशिया के जनमानस में भगवान श्रीराम (Lord Shri Ram) के प्रति सम्मान  सबको अचंभित करती है। यहीं नहीं रामायण को इंडोनेशिया में एक महत्वपूर्ण ग्रंथ का दर्जा हासिल है। वहां के लोग मुस्लिम होने के वाबजूद भगवान राम को अपना आदर्श मानने से भी नहीं हिचकते हैं। दक्षिण पूर्व एशिया में स्थित इंडोनेशिया की आबादी लगभग 23 करोड़ है।

नोरा फतेही ने इस गाने पर किया शानदार बेली डांस, देखें वायरल वीडियो

मालूम हो कि 1973 में ही इंडोनेशिया में अंतरराष्ट्रीय रामायण सम्मलेन हुआ जिसका चर्चा दुनिया भर में हुई।  इंडोनेशिया पहला ऐसा मुस्लिम देश हैं जहां किसी अन्य धर्मग्रंथ के सम्मान में इतना बड़ा आयोजन किया गया था। इंडोनेशिया के कई इलाके में रामायण के अवशेष और रामकथा के चित्र का पत्थरों पर नक्काशी मिल जाता है।

जैसे भारत में राम का जन्मस्थल अयोध्या है,वैसे ही इंडोनेशिया में योग्या नामक जगह को भगवान श्रीराम का जन्मस्थली माना जाता है। जबकि रामायण को काकावीन रामायण कहा जाता है। जैसे भारत में रामायण के रचियेता महर्षि वाल्मिकी है, वैसे ही इंडोनेशिया में कवि योगेश्वर को यह श्रेय जाता है।

Loading...
loading...

Related Post

श्रुति कश्यप

हिमाचल प्रदेश शिक्षा बोर्ड 12वीं की टॉपर श्रुति कश्यप बनना चाहती हैं आईएएस

Posted by - June 18, 2020 0
नई दिल्ली। हिमाचल प्रदेश शिक्षा बोर्ड धर्मशाला ने गुरुवार को 12वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया है। 12वीं…

डायरेक्टर विजया निर्मला का न‍िधन, गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज है नाम

Posted by - June 27, 2019 0
इंटरटेनमेंट डेस्क। टॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस और डायरेक्टर विजया निर्मला का 73 साल की उम्र में हैदराबाद में निधन हो…
sachin vaje

एंटीलिया केस में वाजे का बयान- हटाना चाहते थे पवार, मनाने के लिए देशमुख ने मांगे थे दो करोड़!

Posted by - April 7, 2021 0
मुंबई। एनआईए ने कोर्ट में कहा था कि उन्हें यह पता लगाना होगा कि एपीआई रैंक के अधिकारी के पास…