AKTU convocation

एकेटीयू का दीक्षांत : राज्यपाल आनंदीबेन पटेल बोलीं, उच्चशिक्षण संस्थान कोरोना वायरस पर करें शोध

1107 0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल व कुलाधिपति आनंदीबेन पटेल ने प्रदेश के सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेज को कोरोना पर शोध करने बल दिया। उन्होंने शोधार्थियों से अपील की है कि वह कोरोना वायरस पर शोध करें। ताकि भविष्य में अगर ऐसी कोई बीमारी आती है तो उससे और बेहतर तरीके से निपटा जा सके।

यह बात शनिवार को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) (AKTU convocation) के 18 वें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि हमने कोरोना को लोगों की अपेक्षा के विपरीत हराया है। लोग कहते थे कि ठंड में संक्रमण और बढ़ेगा, लेकिन हमने सीमित संसाधनों के बीच कोरोना पर काबू पाया।

उन्होंने यूनिवर्सिटी के स्तर पर स्वयं सहायता समूहों की भूमिका पर भी शोध किए जाने की नसीहत दी है। उन्होंने कहा कि स्वयं सहायता समूह महिलाओं को आगे बढ़ाने और उनके विकास में बहुत उपयोगी रहे हैं। पहले महिलाएं जो घर मे खुलकर नहीं बोल पाती थीं वह आज सबके सामने अपनी बात रख रही हैं। उनकी भूमिका पर शोध करें और उनके बारे में पढ़ें। राज्यपाल ने कहा कि बच्चों को समय-समय पर जेल और अस्पताल का भी भ्रमण करना चाहिए। जेल में लोगों के अनुभव उन्हें भविष्य में कुछ गलत न करने के लिए प्रेरित करेंगे।

गांव देश के पैर हैं और उनको मजबूत करें: पर्यावरणविद अनिल जोशी

दीक्षांत समारोह के मुख्य अतिथि पद्मश्री, पद्मभूषण पर्यावरणविद अनिल प्रकाश जोशी ने युवाओं से आह्वान किया है कि वे गांवों की तरफ ध्यान दें। उन्होंने कहा कि गांव देश के पैर हैं और उनको मजबूत करें। उन्होंने कहा कि आज इनक्लूसिव ग्रोथ की जरूरत है। शहर की ओर पलायन एक दिन विस्फोट का कारण बनेगा। कोरोना में सबको अपना गांव ही सुरक्षित लगा था।

उन्होंने कहा कि विज्ञान पश्चिम का नहीं पूरब का ही सर्वोपरि होता है। यह सोचना और जानना होगा। अनिल प्रकाश जोशी ने कहा कि हमें जल, जंगल और जमीन के संरक्षण के लिए संवेदनशील होना पड़ेगा। यदि हमें स्वस्थ जीवन चाहिए तो पर्यावरण के स्वास्थ्य के लिए भी कार्य करना पड़ेगा। समारोह में 90 पीएचडी छात्र-छात्राओं को उपाधि प्रदान दी गई। कुल 65 मेधावियों को स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक प्रदान किया गया।

25 टन ई-कचरे को रिसाइकिल कर रीवा तुलपुले ने भारत का नाम किया रोशन

इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन की बीटेक की छात्रा सृष्टि सिंह को कुलाधिपति स्वर्ण पदक प्रदान किया गया। साथ ही इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन की बीटेक की छात्रा ऋतू वर्मा को कमल रानी मेडल प्रदान किया गया। इस दौरान 55181 छात्र-छात्राओं को विभिन्न पाठ्यक्रमों में उपाधि प्रदान की गई।

एकेटीयू के पूर्व छात्र नीरज सरन श्रीवास्तव को डिस्टेंगविस एल्युमिनाई अवार्ड प्रदान किया गया। नीरज सरन श्रीवास्तव ने एकेटीयू से सम्बद्ध संस्थान एकेजीईसी, गाजियाबाद से 2005 से 2009 बैच में इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन में बीटेक की पढ़ाई कर वर्ष 2009 में विवि से उपाधि प्राप्त की। वर्तमान में नीरज सरन टोरन्टो, यूएसए में डीटीएल लैब्स के को-फाउंडर व सीटीओ हैं।

समारोह में प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक, प्रमुख सचिव प्राविधिक शिक्षा राधा एस चौहान, कुलसचिव नन्द लाल सिंह, प्रति कुलपति प्रो. विनीत कंसल, विद्या परिषद एवं कार्य परिषद के सदस्य तथा डीन उपस्थित थे।

Loading...
loading...

Related Post

सुशांत सिंह राजपूत Sushant Singh Case

सुशांत की फॉरेंसिक रिपोर्ट का पुलिस को है इंतजार, जल्द कई और लोगों से करेगी पूछताछ

Posted by - June 21, 2020 0
मुंबई। एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड ने बॉलीवुड की सच्चाई को सामने लाकर खड़ा कर दिया है। नेपोटिज्म पर…