AK Sharma

श्रद्धालुओं को ठण्ड से बचाने के लिए शेल्टर होम्स के साथ अलाव जलाने की पर्याप्त व्यवस्था कराएं: एके शर्मा

96 0

लखनऊ। प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री एके शर्मा (AK Sharma) ने आगामी 22 जनवरी, 2024 को अयोध्या धाम में भगवान मर्यादा पुरूषोत्तम राम मंदिर की प्राण-प्रतिष्ठा (Ramlalla Pran Pratishtha) में देश-विदेश से आने वाले लाखों श्रद्धालुओं को अयोध्या के पुराने गौरव के साथ दिव्य और भव्य अयोध्या धाम के दर्शन कराने के लिए तथा प्राण-प्रतिष्ठा के बाद भी अयोध्या धाम आने वाले श्रद्धालुओं को भारत की प्राचीन संस्कृति के गौरव का बोध कराने के लिए सम्पूर्ण तैयारियों के लिए अभी से जी-जान से जुटने के लिए कहा। उन्होंने निर्देश दिये कि प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम की तैयारियों के दृष्टिगत अयोध्या, कानपुर, लखनऊ, वाराणसी, गोरखपुर, प्रयागराज के नगर आयुक्त अपने शहरों की साफ- सफाई, सुशोभन व व्यवस्थापन पर विशेष ध्यान देंगे साथ ही लखनऊ, बस्ती, गोरखपुर, अयोध्या, देवीपाटन मण्डल की सभी नगरपालिका परिषद व नगर पंचायतों के अधिशासी अधिकारी भी अपने निकायों में साफ-सफाई व सुन्दरीकरण पर विशेष ध्यान देंगे।

नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री एके शर्मा (AK Sharma) कल बुधवार को देर शाम जल निगम फील्ड हास्टल ‘संगम’ लखनऊ में 22 जनवरी को अयोध्या धाम में होने वाले राम मंदिर प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर सम्बंधित निकायों को विशेष रूप से सजग रहने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि श्रद्धालु अयोध्या धाम के आस-पास के रेलवे स्टेशनों, एयरपोर्ट से आ सकते हैं तथा अयोध्या धाम के साथ आस-पास के प्रसिद्ध धार्मिक स्थलों पर भी दर्शन के लिए जा सकते हैं। इसके लिए सभी प्रमुख मार्गों की साफ-सफाई एवं व्यवस्थापन पर विशेष ध्यान देंगे। स्ट्रीट लाइट की खराबियों तथा सड़कों के गड्ढों को तुरन्त ठीक कराएं। जहां कहीं पर भी ज्यादा जाम लगने की सम्भावना है वहां पर भी विशेष ध्यान दिया जाय। इन सभी निकायों में होटलों के आस-पास भी सफाई ठीक रहे।

एके शर्मा (AK Sharma) ने कहा कि श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए सम्बंधित निकाय अयोध्या को जाने वाले मुख्य मार्गों पर संयुक्त राष्ट्र की मान्यता प्राप्त विभिन्न भाषाओं, बुद्धिष्ट राष्ट्रों की भाषाओं तथा हिन्दी, अंग्रेजी, संस्कृत मराठी, गुजराती, तमिल, तेलुगु, बंगाली भाषाओं में अयोध्या धाम की दूरी, दिशा, को दर्शाने वाले शाइनेज लगाए जाएं, जिसमें सम्बंधित निकाय की लोेकेशन और स्वागत संदेश भी लिखा हो।

उन्होंने (AK Sharma) सम्बंधित निकायों को सभी रेलवे स्टेशनों व एयरपोर्ट के अन्दर व इसके आस-पास अयोध्या की दूरी दर्शाने तथा स्वागत के शाइनेज लगाने हेतु निर्देशित किया। साथ ही इन मार्गों पर सम्बंधित निकाय नगर विकास की योजनाओं का लाभ प्राप्त लाभार्थियों को दर्शाती हुई प्रचार-प्रसार के लिए होर्डिंग्स भी लगाएं। उन्होंने सभी निकायों को 10 जनवरी से 10 फरवरी, 2024 तक एक महीने का साफ-सफाई, सुशोभन एवं व्यवस्थापन का विशेष अभियान चलाने का भी निर्देश दिया।

नगर विकास मंत्री (AK Sharma) ने लखनऊ और गोरखपुर नगर निगम को निर्देश दिये कि अयोध्या धाम की बेहतर व्यवस्था हेतु पर्याप्त मैन पावर और मशीनरी शीघ्र उपलब्ध कराएं। सम्बंधित निकाय श्रद्धालुओं को ठण्ड से बचाने के लिए शेल्टर होम्स के साथ अलाव जलाने की पर्याप्त व्यवस्था कराएंगे। उन्होंने लखनऊ नगर आयुक्त इन्द्रजीत को एयरपोर्ट, बस व रेलवे स्टेशनों, शहीद पथ के साथ ऐतिहासिक स्थलों की साफ-सफाई, सुशोभन व अन्य व्यवस्था के साथ इनको जोड़ने वाले मुख्य मार्गों की साफ-सफाई पर भी ध्यान देने के निर्देश दिये, जिससे आने वालों को परेशानियां न हों। उन्होंने कहा कि जी-20 जैसी तैयारियां करनी हैं। मुख्य मार्गों की सम्पूर्ण स्ट्रीट लाइट्स सही हो, रोड कान्जेक्शन सुधारें, चिनहट व कमता चौराहे के पास ट्रैफिक व्यवस्था दुरूस्त करें। उन्होंने गोरखपुर नगर आयुक्त को अयोध्या धाम जाने वाले सभी मुख्य मार्गों पर शाइनेज लगाने के निर्देश दिये।

रामोत्सव 2024: अयोध्या में इंटरनेशनल काइट फेस्टिवल कराएगी योगी सरकार

नगर विकास मंत्री (AK Sharma) ने नगर आयुक्त अयोध्या को निर्देश दिये कि अयोध्या धाम के 60 वार्डों के अन्दर की सभी गलियों, सड़कों, नाले व नालियों की सफाई सुनिश्चित कराने, मार्ग प्रकाश, सभी कार्मिकों की वार्डवार ड्यूटी लगाने, गलियों की इन्टरलाकिंग, सड़कों को गड्ढामुक्त कराएं, खुली नालियों को ढकें, मलिन बस्तियों की साफ-सफाई और व्यवस्थापन आदि कार्यों पर भी ध्यान देंगे। मार्गों के सुन्दरीकरण के लिए बड़े पौधेयुक्त गमले भी रखवाएं। मुख्य स्थानों पर स्मार्ट शाइनेज लगाए जाएं। श्रद्धालुओं के ठहरने हेतु पर्याप्त रैन बसेरा, शुद्ध पेयजल, अलाव जलाने की व्यवस्था, महिलाओं और पुरूषों के लिए अलग-अलग टॉयलेट बनाये जाएं। शौचालयों में अस्थायीय टॉयलेट, वीआईपी टॉयलेट, पब्लिक टॉयलेट, स्मार्ट टॉयलेट और महिलाओं के पिंक टॉयलेट भी बनाएं। सरयू घाटों पर चेन्जिंग रूम बनाये जाएं। उन्होंने कहा कि बस व रेलवे स्टेशनों, एयरपोर्ट, चौराहों की साफ-सफाई, सुन्दरीकरण पर विशेष ध्यान देंगे। अयोध्या धाम के कोर एरिया में कहीं पर भी व्यवस्था में कमी न रहने पाये। श्रद्धालुओं को अयोध्या धाम तक पहुंचने में आसानी हो, इसके लिए पर्याप्त सिटी बसों की उपलब्धता सुनिश्चित करायी जाय। उन्होंने कहा कि व्यवस्था हेतु सभी क्षेत्रों में पर्याप्त स्वयंसेवक लगाये जाएं। व्यापारिक प्रतिष्ठानों और दुकानदारों का भी सहयोग लें कि वे अपने सामने के भाग पर लाइटिंग भी कराएं। उन्होंने कहा कि अयोध्या धाम को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए नो प्लास्टिक बैग जोन विकसित किये जाएं, मन्दिरों व सार्वजनिक स्थलों के आस-पास कपड़ों का बैग उपलब्ध कराया जाय, इसके लिए निकाय क्षेत्र में जागरूकता अभियान भी चलाएं।

बैठक में प्रमुख सचिव नगर विकास अमृत अभिजात ने बताया कि अयोध्या धाम के कुल 60 वार्डों में विशेष रूप से 40 वार्डों की साफ-सफाई, मार्ग प्रकाश आदि सुनिश्चित कराने के लिए 10 अपर नगर आयुक्त, संयुक्त नगर आयुक्त, सहायक नगर आयुक्त की ड्यूटी लगायी गयी है। समस्त व्यवस्था के सुचारू संचालन हेतु चार वार्ड में एक सफाई निरीक्षक की तैनाती की गयी है, साथ ही 10 सफाई निरीक्षकों के कार्यों की मानीटरिंग के लिए एक आईएएस स्तर के अधिकारी को जिम्मेदारी दी गयी है। सभी क्षेत्रों में ड्रोन के माध्यम से निगरानी की व्यवस्था की गयी है। इन्टीग्रेटेड कमाण्ड कन्ट्रोल सेन्टर को भी पूरी क्षमता के साथ संचालित किया जा रहा है।

बैठक में सचिव नगर विकास, विशेष सचिव, निदेशक नगरीय निकाय, निदेशक सूडा उपस्थित थे तथा सम्बंधित निकायों के अधिकारी वर्चुअल जुड़े थे।

Related Post

तेज बहादुर को सुप्रीम कोर्ट से झटका

तेज बहादुर को झटका, चुनाव आयोग के फैसले पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट किया इनकार

Posted by - May 9, 2019 0
नई दिल्ली। वाराणसी से सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के प्रत्‍याशी तेज बहादुर को सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा है। सुप्रीम कोर्ट ने…