दिल्ली के बाद मुंबई में भी पटाखे जलाने को लेकर लिया गया एक्शन

472 0

राष्ट्रीय डेस्क.   कुछ दिनों पहले ही दिल्ली सरकार ने बढ़ते कोरोना वायरस के केसेस और वायु प्रदुषण के कारण पटाखों पर पूरी तरह से बैन लगाने का फैसला किया था. दिवाली के त्योहार से पहले देश के अलग-अलग हिस्सों में पटाखों को लेकर एक्शन लिया जा रहा है. दिल्ली और राजस्थान के बाद अब महाराष्ट्र और हरियाणा तक इसका असर देखने को मिल रहा है. हरियाणा में भी पटाखों पर रोक लगाने की उम्मीद थी लेकिन हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने ये फैसला लिया है कि लोग दो घंटे तक पटाखे जला सकते हैं. अब मुंबई में भी इसपर सख्त फैसला लिया गया है.

कंगना रनौत ने जो बाइडेन को बताया गजनी कही- ये बड़ी बात

मुंबई में बीएमसी अपने आदेश में कहा कि, सरकारी, प्राइवेट और पब्लिक जगहों पर पटाखा जलाने पर रोक है. हालांकि, सिर्फ 14 नवंबर को प्राइवेट सोसाइटी में रहने वाले लोगों को फुलझड़ी और अनार जैसे पटाखे का उपयोग करने की छूट दी गई है. आप होटल ,रेस्टोरेंट ,पार्क ,पब जिम, क्लब में भी पटाखे नहीं जला सकते हैं. लेकिन हालांकि लक्ष्मीपूजन के दिन हल्के बिना आवाज वाले फटाखे फोड़ने की इजाजत दी गई है.

राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में नौ नवंबर मध्यरात्रि से लेकर 30 नवंबर को आधी रात तक सभी प्रकार के पटाखों की बिक्री और इस्तेमाल पर पूर्णत: प्रतिबंध लगा दिया है. एनजीटी अध्यक्ष न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल के नेतृत्व वाली एक पीठ ने यह भी स्पष्ट कर दिया कि यह प्रतिबंध देश के हर उस शहर और कस्बे पर लागू होगा जहां नवंबर के महीने (पिछले साल के उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार) में वायु गुणवत्ता ‘खराब’ या उससे ऊपर की श्रेणियों में दर्ज की गई थी.

पीठ ने कहा, ‘‘ वैसे शहर या कस्बे जहां वायु गणवत्ता ‘मध्यम’ या उसके नीचे दर्ज की गई, वहां सिर्फ हरित पटाखों की बिक्री हो सकती है और दिवाली, छठ, नया साल/क्रिसमस की पूर्व संध्या जैसे अन्य मौकों पर पटाखों के इस्तेमाल और उन्हें फोड़ने की समय सीमा को दो घंटे तक ही सीमित रखी जा सकती है, जैसा कि संबंधित राज्य इसको तय कर सकते हैं।’’

बीएमसी ने लोगों से अपील की  है कि इस दिवाली सभी बिना पटाखों का त्योहार मनाएं, ताकि मुंबई को प्रदूषण और कोरोना वायरस की वेव से बचाया जा सके. साथ ही कहा गया है कि बाहर निकलते वक्त मास्क पहनें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और भीड़ एकत्रित ना होने दें. अगर सोसाइटी में भी बाहर निकल रहे हैं तो नियमों का पालन जरूर करें.

 

 

Related Post

राजद प्रत्याशी सुभाष यादव का नामांकन रद

कोडरमा से राजद प्रत्याशी सुभाष यादव का नामांकन रद, सुरजेवाला की दलीलें फेल

Posted by - November 26, 2019 0
रांची। झारखंड विधानसभा चुनाव में कोडरमा सीट का मुकाबला अब रोचक होता जा रहा है। यहां मंगलवार को एक नाटकीय…