Raghavendra Mishra

वरिष्ठ पत्रकार अच्युतानंद मिश्र को पुत्र शोक, कोरोना संक्रमित थे Raghavendra Mishra

309 0

बहुभाषी न्यूज एजेंसी हिन्दुस्थान समाचार के वरिष्ठतम निदेशक और वरिष्ठ पत्रकार अच्युतानंद मिश्र के बेटे का रविवार को राम मनोहर लेहिया अस्पताल में निधन हो गया। वे कोरोना संक्रमित थे। वे अभी हाल ही में 31 मार्च, 2021 को ऊर्जा विभाग ‘शक्ति भवन’ से सेवानिवृत हुए थे।

परिजनों ने बताया कि राघवेन्द्र मिश्रा (Raghavendra Mishra) ने शुरुआती लक्षण पाये जाने पर अपनी जांच करायी तो वह कोरोना संक्रमित निकले। इसके बाद उनकी हालत सुधर गई थी, लेकिन बीती रात अचानक से तबीयत बिगड़ गई, उन्हें राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां आज दोपहर में उनका निधन हो गया।

RSS ने शुरू किया 50 बेड का आइसोलेशन वार्ड, फ्री में मिलेगी सुविधाएं

उनके निधन की खबर मिलते ही उनके परिवार और प्रशंसकों में शोक की लहर दौड़ गयी। इस दुख की घड़ी में परिवार को सांत्वना देने के लिए करीबी भी उनके घर पहुंचने लगे हैं। राघवेन्द्र (Raghavendra Mishra) पूर्व मंत्री विजय कुमार के मिश्र के भाई थे। इनके एक भाई अशोक मिश्र लखनऊ में पत्रकार हैं।

Related Post

जमीनी विवाद में किसान और उसका परिवार हुआ घायल

जमीनी विवाद में किसान और उसका परिवार हुआ घायल

Posted by - March 6, 2021 0
सरोजनीनगर में शुक्रवार को पुस्तैनी जमीन पर कब्जा करने का विरोध करने पर चाकू, फावड़ा, लोहे की रॉड, असलहे और  धारदार हथियारों से लैस दबंगों ने अपने करीब 5 दर्जन साथियों के साथ मिलकर एक किसान व उसके परिवार पर जमकर हमला कर दिया। दबंगों के इस हमले से किसान परिवार के करीब आधा दर्जन लोग बुरी तरह घायल हो गए। इसमें किसी का सिर फटा तो किसी के हाथ व पैरों में गंभीर चोटें आई हैं। बाद में पुलिस को घटना की सूचना देने के साथ ही लहूलुहान हालत में सभी घायलों को आनन-फानन सरोजनीनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचा कर उनका इलाज कराया गया। फिलहाल पुलिस ने पीड़ित की ओर से आरोपी दबंगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है। सरोजनीनगर के चिल्लावां निवासी वीरेंद्र यादव के मुताबिक शुक्रवार को उसकी दादी की तेरहवीं होने के कारण घर के सभी लोग कार्यक्रम में व्यस्त थे। काकोरी निवासी मिहिर श्रीवास्तव ने यूपी स्टेट शूटिंग चैंपियनशिप में गोल्ड मैडल जीता आरोप है कि इसी बीच कार्यक्रम का फायदा उठा कर यहीं के तहस्बुल खान, उसका बेटा तौफीक, तसब्बुल, आमिर और सुहैल अपने करीब 50 – 60 अन्य अज्ञात लोगों के साथ उसकी तपोवन नगर स्थित पुश्तैनी जमीन पर पहुंच गए और कब्जा करने लगे। दबंगों द्वारा किए जा रहे कब्जे की जानकारी पाकर जब पीड़ित और उसके घर के लोग वहां पहुंचकर विरोध करने लगे तो चाकू, फावड़ा, लोहे की रॉड और असलहे से लैस दबंगों ने एकजुट होकर उनके ऊपर हमला कर दिया। इतना ही नहीं आरोप है कि दबंगों ने सभी को दौड़ा दौड़ा कर मारा। इस घटना में पीड़ित वीरेन्द्र के साथ ही उसके पिता राजेश कुमार यादव, अवध लाल, सुरेंद्र, रवीन्द्र और हृदय नारायण बुरी तरह घायल हो गए। इसमें से किसी का सर फट गया तो किसी के हाथ व पैरों में गंभीर चोटें आई हैं। बाद में घटना की सूचना पुलिस को दी गई। सूचना के बाद जब तक पुलिस मौके पर पहुंचती, तब तक आरोपी दबंग वहां से फरार हो गए। फिलहाल पुलिस ने वीरेंद्र की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच पड़ताल कर रही है। उधर इस घटना में घायल सभी पीड़ितों का सरोजनीनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज कराया गया है।
allahabad-high-court

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फर्जी बीएड डिग्री वाले 2823 अध्यापकों की बर्खास्तगी को बताया सही

Posted by - February 27, 2021 0
प्रयागराज। फर्जी बीएड डिग्री (Fake BEd Degree) वाले 2823 अध्यापकों को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा है। हाईकोर्ट ने…
kalptaru buildtech

कल्पतरु बिल्डटेक के खिलाफ ED ने दर्ज किया मनी लांड्रिंग का केस

Posted by - March 16, 2021 0
लखनऊ। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने आगरा में निवेशकों की गाढ़ी कमाई हड़पने वाले बिल्डर के विरुद्ध मनी लांड्रिंग का केस…