Israel

इजरायल संग जय जवान,जय किसान के नारे को साकार करेगा यूपी

199 0

लखनऊ: इजरायल (Israel) संग ,”जय जवान,जय किसान” (Jai Jawan, Jai Kisan) के नारे को साकार करेगा यूपी। उप्र में बन रहे डिफेंस कॉरिडोर में निवेश और सबसे बड़े पुलिस बल के आधुनिकीकरण में प्रदेश के साथ सहयोग करेगा इजराइल। साथ ही खेतीबाड़ी की बेहतरी के लिए पहले से जारी सहयोग को और बढ़ाएगा। बुंदेलखंड की पानी की समस्या के स्थाई हल में करेगा मदद। इन बातों पर सोमवार को मूख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और इज़राइल के राजदूत नाओर गिलोन के बीच चर्चा हुई।

मुख्यमंत्री ने इजराइल के राजदूत और उनके साथ आए प्रतिनधिमण्डल से कहा कि उत्तर प्रदेश में स्थापित हो रहा डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरीडोर (डीआईसी) में इजराइल के लिए निवेश के अवसरों से भरा हुआ है। हमारे पास पर्याप्त भूमि और मानव संसाधन है। हम रक्षा उत्पादन की इच्छुक निवेशक कंपनियों को सभी जरूरी संसाधन उपलब्ध करा रहे हैं। इजराइल के लिए यह अच्छा मंच है। ड्रोन और एंटी ड्रोन तकनीक में इजराइल के पास अच्छा अनुभव है। यूपी डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरीडोर में निवेश के लिए विचार किया जाना चाहिए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि उत्तर प्रदेश का पुलिस बल दुनिया के विशालतम सिविल पुलिस बलों में से एक है। हम अपने पुलिस बल के आधुनिकीकरण की योजना पर काम कर रहे हैं। इस कार्य में और फोरेंसिक लैब्स की स्ट्रेंथनिंग में भी इजराइल हमारा अच्छा सहयोगी बन सकता है। इसके अलावा राज्य सरकार नई दिल्ली के पास यमुना इंडस्ट्रियल एक्सप्रेसवे पर मेडिकल डिवाइस पार्क का विकसित कर रही है। इजराइल की कम्पनिया यहां भी निवेश के लिए आमंत्रित हैं। खेतीबाड़ी की बेहतरी में यूपी और इजरायल मिलकर करेंगे काम

योगी ने कहा कि खेतीबाड़ी के क्षेत्र में बस्ती और कन्नौज में पहले से ही10-10 हेक्टेयर में इंडो-इजरायल सेंटर ऑफ एक्ससिलेन्स स्थापित हैं। बस्ती का सेंटर खास कर फलों के लिए है। यहां हर साल करीब 42 हजार आम के पौध तैयार किए जाते हैं। इसी तरह बस्ती के सेंटर का फोकस सब्जियो के उन्नतशील पौधों के उत्पादन पर है। इस सेंटर में हर साल 7 लाख पौधे तैयार किए जाते हैं। ये सभी पौधे किसानों को सस्ते दामों पर उपलब्ध कराए जाते हैं।

हमारी योजना हॉर्टिकल्चर और सब्जी उत्पादन के क्षेत्र में नए सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना की है। इस कार्य में भी हमें इजराइल से आवश्यक सहयोग प्राप्त होगा।उम्मीद है कि इस मुलाकात के बाद इजरायल की मदद से प्रदेश में कुछ और सेंटर ऑफ एक्सीलेंस स्थापित करने में इजरायल सहयोग करेगा।

खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में भी इजरायल के लिए अवसर

मुख्यमंत्री ने कहा कि आबादी के हिसाब से सबसे उत्तर प्रदेश भारत का सबसे बड़ा राज्य है। 25 करोड़ की जनसंख्या के साथ यहां बड़ा बाजार भी है। प्रदेश में कृषि के साथ-साथ खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में विकास की असीम संभावनाएं हैं। इंडो गंगेटिक बेल्ट की सबसे उर्वर भूमि और 9 तरह की कृषि जलवायु क्षेत्र होने के साथ यहां हर सीजन में कच्चे माल के रूप में फलों एवं सब्जियों की कोई कमीं नहीं है। इजराइल के लिए यह क्षेत्र भी संभावनाओं का क्षेत्र हो सकता है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि बुंदेलखंड क्षेत्र में सिंचाई व पेयजल के क्षेत्र में इजराइल के तकनीकी सहयोग से नवीन परियोजना प्रस्तावित है। इसकी फिजिबिलिटी रिपोर्ट आ चुकी है, जल्द ही डीटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार हो जाएगी। इस परियोजना की सफलता बुंदेलखंड के किसानों को 12 महीने फसल प्राप्त करने में उपयोगी होगी, और हर घर नल योजना अपने उद्देश्यों में सफल होगी। मूख्यमंत्री ने इजराइल के प्रतिनधिमण्डल का स्वागत करते हुए कहा कि भारत और इजराइल के द्विपक्षीय संबंध सतत प्रगाढ़ हो रहे हैं। दोनों देशों के बीच 30 वर्ष से मजबूत राजनयिक संबंध हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 2017 में अपनी इजरायल यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच सहयोग के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की थी। इस दौरे में उत्तर प्रदेश का एक प्रतिनिधिमंडल भी शामिल था। हाल के वर्षों में भारत-इजरायल के आपसी संबन्धों ने नई ऊंचाइयों को छूआ है। उत्तर प्रदेश दोनों देशों के बीच परस्पर सम्बंधों की बेहतरी में अपनी सकारात्मक भूमिका निभाने के लिए लगातार तत्पर है।

उत्तर प्रदेश में हास्पिटैलिटी में निवेश के कई प्रस्ताव आए

इजराइल के राजदूत ने मुख्यमंत्री के प्रति आभार जताते हुए कहा कि इजराइल और भारत सरकार के बीच मजबूत सामरिक और रणनीतिक सम्बंध हैं, जो प्रधानमंत्री की 2017 की यात्रा के बाद और प्रगाढ़ हुए हैं। दोनों देश नए क्षेत्रों में मिलकर कार्य कर रहे हैं। इजरायल की सरकार उत्तर प्रदेश सरकार के साथ मिलकर किसानों की आय बढ़ाने के लिए कृषि एवं सिंचाई के क्षेत्र में, पेजजल की बेहतर उपलब्धता और जल संरक्षण के क्षेत्र में जो कार्य कर रहे हैं , उसे आगे बढ़ाएंगे। इसके साथ साथ डिफेंस सेक्टर, पुलिस मॉर्डनाइजेशन और उद्योगों के विकास में तकनीक हस्तांतरण भी करेंगे। उत्तर प्रदेश और इजराइल संयुक्त समूह बनाकर इन कार्यों को गति देंगे।

भेंट-वार्ता के दौरान इजराइल के राजदूत ने हालिया विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री जी की अभूतपूर्व विजय पर उन्हें बधाई दी, जिस पर मुख्यमंत्री ने आभार जताया। राजदूत नाओर गिलोन ने कहा कि इजराइल और भारत के बीच मजबूत सामरिक संबंध हैं। उत्तर प्रदेश के साथ हम कई क्षेत्रों में अच्छे सहयोगी की भूमिका में हैं। निकट भविष्य में इजरायल रक्षा, पुलिस आधुनिकीकरण, कृषि आधुनिकीकरण, किसानों को पानी के बेहतर उपयोग, बुंदेलखंड में पेयजल उपलब्धता और रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश का सहयोग करने जा रहा है।

प्रदेश को जैविक प्रदेश के रूप में खड़ा करेंगे, किसानों की आय करेंगे दोगुना: सीएम योगी

Related Post

जापान में जोकर की ड्रेस पहने शख्स ने ट्रेन में चाकू से किया हमला, 17 लोग घायल

Posted by - November 1, 2021 0
टोक्यो। जापान में रविवार को एक ट्रेन में बैटमैन फिल्म के जोकर जैसी पोशाक पहने एक शख्स ने चाकू से हमला…
आतंक का सफाया

साधु-महात्मा के वेश में घूम रहे हैं पाक एजेंट, सेना की जारी चेतावनी

Posted by - November 10, 2019 0
नई दिल्ली। भारतीय सेना ने अपने सैनिकों को नकली बाबाओं और आध्यात्मिक गुरुओं से सावधान रहने की चेतावनी दी है…
Nobel Prize in Chemistry

इमैनुअल शार्पेंची और जेनफिर डाउडना को मिला केमिस्ट्री का नोबेल पुरस्कार

Posted by - October 7, 2020 0
नई दिल्ली। रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज ने साल 2020 का रसायन (केमिस्ट्री) विज्ञान के नोबेल पुरस्कार (Nobel Prize in…