SS Sandhu

सरकारी भूमि से कब्जे हटाने के लिए एक सप्ताह के भीतर लागू होगी नई नीति: मुख्य सचिव

104 0

नैनीताल। प्रदेश के मुख्य सचिव (SS Sandhu) सरकारी भूमि से अतिक्रमण को नियंत्रित करने और सरकारी भूमि पर कब्जों को खाली करवाने के लिए राज्य सरकार नई नीति बना रही है एक सप्ताह के भीतर नई नीति लागू कर दी जाएगी।

मुख्य सचिव एसएस संधू  (SS Sandhu) ने शनिवार को पत्रकारों को बताया कि सरकारी भूमि पर अतिक्रमण न हो इसके लिए सेटेलाइट के माध्यम से सरकारी जमीनों पर नजर रखी जाएगी। साथ ही क्षेत्रीय अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाएगी। इसके बावजूद भी अगर सरकारी भूमि पर कब्जा हुआ तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई भी अमल में लाई जाएगी।

नैनीताल जनपद के हल्द्वानी महानगर के विकास को लेकर राज्य सरकार 2200 करोड़ की लागत से बेहतर पेयजल व्यवस्था, सड़कें, यातायात, जलभराव की समस्या से स्थानीय लोगों को राहत देने की कार्य योजना बना रही है। जल्द ही इस पर कार्य शुरू कर दिया जाएगा। इसके अलावा उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्रों के काश्तकारों की आर्थिक स्थिति व उनके सामाजिक जीवन को बेहतर बनाने को लेकर राज्य सरकार  ने 300 करोड़ की लागत से पॉली हाउस योजना शुरू की है जिसके अंतर्गत काश्तकार क्षेत्रीय भौगोलिक परिस्थितियों के आधार पर खेती कर सकेंगे। इस योजना के तहत राज्य सरकार आने वाले समय में प्रदेश भर के 1 लाख युवाओं को रोजगार देगी। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हल्द्वानी के रानीबाग क्षेत्र में बनने वाले जमरानी बांध परियोजना का कार्य अब अंतिम चरण में है। बांध निर्माण के लिए वित्तीय स्वीकृति हो गई है। बजट जारी होते ही बांध निर्माण का कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

मुख्य सचिव  (SS Sandhu) ने किया बलियानाला और भवाली सेनिटोरियम का निरीक्षण

उत्तराखंड के मुख्य सचिव  (SS Sandhu) ने शनिवार को जिला मुख्यालय नैनीताल के तीन दिवसीय भ्रमण के दौरान नगर के आधार कहे जाने वाले बलियानाला में हो रहे भूस्खलन स्थल का संबंधित अधिकारियों के साथ स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान लोनिवि के मुख्य अभियंता संजय शुक्ला ने बलियानाला के संरक्षण कार्य को अब तक की गई कार्रवाई से मुख्य सचिव को अवगत कराया।

भारतीय मजदूर संघ के प्रतिनिधिमंडल ने सीएम धामी से भेंट कर सौंपा ज्ञापन

इस पर मुख्य सचिव ने इसके उपरांत भवाली स्थित टीबी सेनिटोरियम का भी निरीक्षण किया एवं संबंधित जानकारियों लीं। सेनिटोरियम की वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉ। शशि बाला ने बताया कि वर्तमान में यहां उत्तर प्रदेश के सहित कुल 42 टीबी मरीज भर्ती हैं। इस अवसर पर डीएम धीराज गर्ब्याल, एडीएम अशोक जोशी, सीएमओ डॉ। भागीरथी जोशी के साथ ही सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Post

एजीआर मामला

एजीआर मामला में भारती एयरटेल ने जमा किए 10,000 करोड़, SC ने ठुकराया वोडाफोन आइडिया का प्रस्ताव 

Posted by - February 17, 2020 0
बिजनेस डेस्क। आज सोमवार यानि 17 फरवरी को टेलीकॉम ऑपरेटर्स भारती एयरटेल, वोडाफोन आइडिया और टाटा टेलीसर्विसेज को एजीआर का…
cm dhami

मुख्यमंत्री धामी ने सुनी ‘मन की बात’, तिरंगा फहराने की अपील की

Posted by - July 31, 2022 0
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (CM Dhami) ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ‘मन की बात’ कार्यक्रम को सुना। मुख्यमंत्री…