संजय निरुपम

संजय निरुपम बोले- शिवसेना का पाप कांग्रेस पार्टी क्यों ढोए?

200 0

मुंबई। शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी की महाराष्ट्र में सरकार बनने की संभावना अब बढ़ गई है। बुधवार देर शाम एनसीपी-कांग्रेस के नेताओं ने दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कॉमन मिनिमम प्रोग्राम और गठबंधन से जुड़ी बातों में समन्वय होने की बात बताई। जिसके बाद माना जा रहा है कि अब गठबंधन लगभग तय हो गया है। इस गठबंधन का विरोध करने वाले कांग्रेस के मुंबई से पूर्व सांसद रहे नेता संजय निरुपम फिर एक बार मुखर हो गए हैं।

संजय निरुपम का कहना है कि यूपी में एक बार कांग्रेस का समाजवादी पार्टी के संग गठबंधन करना आज तक पार्टी को खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। उसी तरह से इस बार महाराष्ट्र में जो गठबंधन कांग्रेस शिवसेना के संग कर रही है, वह कांग्रेस के लिए बहुत बुरा होगा। संजय निरुपम का साफ कहना है कि शिवसेना के संग जाने का निर्णय कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओं के दबाव में ले रही हैं। बता दें कि कांग्रेस के 44 में से 41 विधायक शिवसेना के संग सरकार बनाना चाहते हैं। इस पर संजय निरुपम का कहना है कि नए विधायकों को अपने भविष्य की चिंता है, लेकिन गठबंधन के बाद उनका भविष्य और ज्यादा खतरे में पड़ जाएगा।

Loading...
loading...

Related Post

Shweta Tripathi

‘मसान’ फेम अभिनेत्री श्वेता त्रिपाठी बोलीं- जबरदस्ती कोई हमारे मुंह में ड्रग्स नहीं डालता

Posted by - September 19, 2020 0
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के 99 प्रतिशत बॉलीवुड द्वारा ड्रग्स का सेवन की बात कही थी। इस दावे को…
भारत की समुद्री सीमा

भारत की समुद्री सीमा पर कोई परिंदा भी पर नहीं मार सकता : राजनाथ

Posted by - September 27, 2019 0
नई दिल्ली। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह शनिवार को सबमरीन INS कलवरी का कमीशन करेंगे। इससे पहले रक्षा मंत्री ने ट्वीट कर…
दिल्ली विधानसभा चुनाव

दिल्ली विधानसभा चुनाव : अमित शाह ने बुलाई सभी सांसदों की बैठक, जेपी नड्डा पहुंचे

Posted by - February 8, 2020 0
नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव में शनिवार को मतदान होने के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने अपने सभी सांसदों…
केजीएमयू

केजीएमयू डॉक्टरों ने घुटने और कूल्हे का प्रत्यारोपण कर अपंग मरीज को दी नई जिंदगी

Posted by - March 15, 2020 0
लखनऊ। केजीएमयू के अस्थि शल्य विभाग के डॉक्टरों ने एक मरीज को नया जीवन दिया है। डॉक्टरों ने मरीज के…