Samadhan saptah

कल से आयोजित होगा ’विद्युत समाधान सप्ताह’

59 0

 लखनऊ। प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री  एके शर्मा (AK Sharma) ने बताया कि उपभोक्ताओं की समस्याओं के समाधान तथा विद्युत संबंधी कार्यों के लिए कल दिनांक 12 सितम्बर से 19 सितम्बर, 2022 तक ’विद्युत समाधान सप्ताह’ (Samadhan Saptah) का सभी 33/11 के०वी० उपकेन्द्रों पर शिविर लगाकर आयोजित किये जायेंगे। यह शिविर प्रतिदिन सुबह 08ः00 बजे से सायं 08ः00 बजे तक अयोजित किये जायेंगे, जिसपर पूरी गम्भीरता, तत्परता एवं संवेदनशीलता के साथ विद्युत संबंधी उपभोक्ताओं की समस्याओं का समाधान मौके पर किया जायेगा।

ऊर्जा मंत्री  ए0के0 शर्मा (AK Sharma)  ने कहा कि विद्युत समाधान (Samadhan Camp) शिविर में विद्युत उपभोक्ताओं से उनके बकाया विद्युत बिलों का भुगतान प्राप्त करना एवं बिल सम्बन्धित शिकायतों का निस्तारण होगा। कनेक्शन/लोड बढ़ाने या मीटर लगाने के निवेदन पर त्वरित कार्यवाही। सभी प्रकार के विद्युत कनेक्शन से सम्बन्धित प्राप्त होने वाली शिकायतों/समस्याओं का त्वरित निस्तारण किया जायेगा। ट्रान्सफार्मर, फीडर, लोड/वोल्टेज अथवा जर्जर तार जैसी समस्याओं के निवेदन, जिसमें त्वरित समाधान सम्भव हो सकेगा। घटित होने वाली विद्युत दुर्घटना के कारण होने वाली जानहानि से सम्बन्धित मुआवजा एवं ऐसी समस्याओं को नगण्य किये जाने के उद्देश्य से त्रुटिपूर्ण अधिष्ठापन पर कार्यवाही होगी।

विद्युत उपभोक्ताओं के परिसरों पर स्थापित जले/खराब/क्षतिग्रस्त मीटरों को बदलने के साथ-साथ पुराने मीटरों के स्थान पर नवीन मीटर स्थापित कराने का कार्य किया जायेगा। झूल रहे तारों, विद्युत दुर्घटना की आशंका वाली लाइन, परिवर्तक के संबंध में प्राप्त शिकायतों का त्वरित निदान होगा। विद्युत उपभोक्ताओं के परिसरों पर जले, खराब, क्षतिग्रस्त मीटरों को बदलने के साथ-साथ पुराने मीटर के स्थान पर नवीन मीटर स्थापित कराने का कार्य भी कराया जायेगा। साथ ही अन्य विद्युत सम्बन्धी समस्याओं से सम्बन्धित निवेदनों एवं सुझाओं पर विचार किया जायेगा।

समाधान सप्ताह की मॉनीटरिंग के लिए नियुक्त हुए नोडल अधिकारी

एके शर्मा (AK Sharma)  ने बताया कि समाधान सप्ताह (Samadhan Saptah) के प्रत्येक दिन सुबह से सायं तक शिविर के आयोजन एवं संचालन की जिम्मेदारी स्थानीय अवर अभियन्ताओं की होगी एवं उपखण्ड स्तर पर उपखण्ड अधिकारी द्वारा अपने दिशा निर्देशन में यह कार्य किया जायेगा। इसकी मानिटरिंग मण्डल स्तर पर मुख्य अभियन्ता (वि०), जनपद स्तर पर अधीक्षण अभियन्ता, खण्ड स्तर पर अधिशासी अभियन्ता द्वारा किया जायेगा।

राज्य स्तरीय मुख्य कार्यालय एवं विद्युत वितरण कम्पनी के अधिकारियों के बीच मानिटरिंग के लिये जिम्मेदारी तय की जायेगी। क्षेत्रों में व्यापक प्रचार प्रसार किया जायेगा एवं किस गाव के लोगों को सप्ताह के किस दिन आना है इसकी समय सारिणी जन सामान्य को उपलब्ध करायी जायेगी।

उपभोक्तओं को ज्यादा से ज्यादा शिविर का लाभ मिले इसके लिए सम्बन्धित क्षेत्र के ग्राम प्रधान/वार्ड सभासद से सम्पर्क स्थापित करके आयोजित होने वाले शिविर के संबंध में जानकारी दी जायेगी। साथ ही यह जानकारी सम्बन्धित सांसद, विधायक, जिला/ब्लाक पंचायत प्रमुख एवं अन्य जनप्रतिनिधियों को भी दी जायेगी।

Related Post