मिनिस्टर का मतलब स्टैंप होना नहीं, यहां मंत्रालय के बाहर ही फैसले हो जाते हैं- विस्तार पर बोले टिकैत

310 0

नए कृषि कानून के खिलाफ आवाज उठा रहे किसान नेता राकेश टिकैत ने मोदी सरकार के नए मंत्रिमंडल पर निशाना साधा है।न्यूज 24 से बातचीत में उन्होंने कहा- लोगों की तनख्वाहें नहीं बढ़ीं। किसानों की फसल के दाम न बढ़े, पर महंगाई देश में बढ़ रही है। टिकैत बोले- मंत्री बनने चाहिए, तो उन्हें पावर भी दे देनी चाहिए। मिनिस्टर का मतलब स्टैंप होना नहीं है। मंत्री के पास कुछ अधिकार भी हो।

बीकेयू नेता ने कहा- यहां पर तो ऐसा है कि मंत्री को पता ही नहीं है कि समझौते बाहर से हो रहे हैं, मंत्रालय के बाहर ही खेल हो रहा। टिकैत ने आगे कहा- मंत्रियों के पास न तो ताकत है, न ही जानकारी। मंत्री तक दरकिनार कर दिए जाते हैं। ऐसा तो नहीं होना चाहिए।

हिंदी चैनल न्यूज 24 से बातचीत में उन्होंने बताया, “लोगों की तनख्वाहें नहीं बढ़ीं। किसानों की फसल के दाम न बढ़े, पर महंगाई देश में बढ़ रही है। हम भी आम आदमी है। किसान, जो गांव में रहता है, वह भी आम आदमी है। हमने महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन किया, जिससे सरकार सुनती है। रोष से जुड़ा संदेश जाता है।”

विपक्ष की भूमिका में किसानों के आ जाने से जुड़े सवाल पर टिकैत बोले- हम तो अपनी भूमिका में हैं। भई, जेब से तो हमारे जा रहा है पैसा। जिसकी जेब से पैसा जाएगा, वह आंदोलन करेगा। पर विपक्ष को भी करना चाहिए। विपक्ष बोल नहीं रहा…मतलब इतना नहीं डरना चाहिए। उसे सामने आना चाहिए। अब पता नहीं किसके कान सरकार ने दबा रखे हैं।

Related Post

अर्थव्यवस्था पर मनमोहन सिंह की सलाह मानना सरकार के देशहित में – शिवसेना

Posted by - September 4, 2019 0
नई दिल्ली। शिवसेना ने देश में मौजूदा आर्थिक मंदी पर पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का समर्थन किया है शिवसेना की…
Police conduct checking campaign regarding upcoming festivals and covid19

आगामी त्योहारों और कोविड को लेकर पुलिस ने चेकिंग अभियान चलाया

Posted by - March 23, 2021 0
आगामी त्योहारों और कोविड 19 महामारी के मद्देनजर जॉइंट पुलिस कमिश्नर लॉ ऑडर नवीन अरोरा और एसीपी गाजीपुर ने सोमवार…