Kalicharan

फिल्म काली के पोस्टर पर आग बबूला हुए कालीचरण, दे डाला ये बयान

156 0

इंदौर: डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘काली’ के पोस्टर को लेकर विवाद ने देश में फिर से आग भड़का दी है। मध्यप्रदेश में फिल्म काली की डायरेक्टर लीना मणिमेकलाई पर 2 FIR दर्ज की गई हैं। इसके बाद इंदौर में कालीचरण महाराज (Kalicharan Maharaj) ने भी एफआईआर दर्ज कराने की बात कहते हुए विवादित बयान भी दे डाला है। महाराज ने कहा कि भारत में धर्म के अपमान को सहन करने की प्रवृत्ति की वजह से हिंदू डरपोक के जैसा जीवन बिता रहा है। मोदी, योगी, शाह तीनों ही लोग कट्टरता दिखा रहे हैं।

कालीचरण महाराज ने कहा कि मदरसों से मुसलमानों को तालीम मिलती है, लेकिन हिंदुओं को धर्म शिक्षा न तो मंदिर से मिलती है, न ही घर से मिलती है। साधुओं के अपमान की तीव्र प्रतिक्रिया संविधानिक तरीके से करनी चाहिए। जिसका दिमाग चलता है। वो दिमांग चलाएं, जिसके हाथ-पैर चलते हैं, वह हाथ पर चलाएं। जिसकी पद प्रतिष्ठा चलती है। धर्म-संस्कृति का संहार हो रहा है। धर्म का अपमान अगर हिंदू सहता गया तो 12000 साल के लिए हिंदू नर्क में सड़ेगा। उन्होंने सभी मंदिर के पुजारी और हिंदुओं से आव्हान करते हुए कहा कि सभी थाने में काली पोस्टर को लेकर एफआईआर दर्ज कराएं।

बरेलवी उलेमा ने कन्हैयालाल के हत्यारों के खिलाफ जारी किया फतवा

कालीचरण महाराज ने कहा कि, भ्रष्ट साधुओं पर फिल्में बनती है तो हम सहन कर लेंगे, लेकिन देवताओं का अपमान नहीं सहेंगे। उन्होंने कहा कि फिल्म निर्माता को चुड़ैल बोलना भी चुड़ैलों का अपमान है। हिंदुओं को संवैधानिक आश्रय लेकर कार्य करना चाहिए। हिंदुओं को महत्वपूर्ण बात याद रखना चाहिए कि हिंदुओं की सारी समस्या की जड़ राजनीति में है। मोदी अकेले कहां-कहां क्या करें, बाकी लोग क्या करेंगे, घर में बैठकर नींद लेगे क्या?

काली पोस्टर के बाद Leena ने शेयर की शिव-पार्वती की तस्वीर, मचा बावाल

Related Post

Police arrested Maneka Gandhi's fake account

पुलिस ने मेनका गांधी के फर्जी अकाउंट वाले को गिरफ्तार कर लिया

Posted by - April 6, 2021 0
भारतीय जनता पार्टी की सुलतानपुर से सांसद एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका संजय गांधी के नाम से फर्जी फेसबुक अकाउंट…
Sharad Pawar

राष्ट्रपति पद के लिए शरद पवार को कांग्रेस क्यों बनाना चाह रही संयुक्त विपक्षी उम्मीदवार?

Posted by - June 14, 2022 0
नई दिल्ली: कई दिग्गज राजनीतिक नेताओं के राष्ट्रपति चुनाव (Presidential election 2022) के लिए दौड़ में होने की अफवाह है,…