JDU नेता के भाई की गोली मारकर हत्या

876 0

बिहार के उजियारपुर लोकसभा सीट से पूर्व सांसद और जदयू (JDU) की जिलाध्यक्ष अश्वमेध देवी के भाई की बदमाशों ने लूटपाट के बाद हत्या कर दी। बदमाशों ने उन पर हमला तब किया, जब वे बैंक से पैसे निकालकर अपने घर की ओर जा रहे थे। बदमाशों की संख्या 6 बताई जा रही है। पुलिस पूरे मामले की पड़ताल कर रही है। इस घटना को दिनदहाड़े ही अंजाम दिया गया है।

अश्वमेध देवी के भाई सुनील कुमार सीएसपी के संचालक हैं। वे सरायरंजन बैंक से 5 लाख रुपये निकालकर जब घर के निकले तो अपराधी उनके पीछे लग गए। अपराधियों ने कुछ देर उनका पीछा किया और उन्हें धक्का मारकर नीचे गिरा दिया। सुनील कुमार के गिरते ही बदमाशों ने उनसे 5 लाख रुपये लूटने की कोशिश की। उन्होंने विरोध किया तो जान से हाथ धोना पड़ा।

अपराधियों के साथ भिड़ंत के दौरान 6 बदमाशों ने कथित तौर पर उन पर गोलियां बरसानी शुरू कर दीं। अब तक सामने आई जानकारी के मुताबिक उन्हें 3 गोलियां लगीं, जिसके बाद सुनील कुमार की गोली लगने से घटनास्थल पर ही मौत हो गई। हत्या के बाद बदमाशों ने 5 लाख रुपये लूट लिए, फिर वहां से भाग गए। मृतक सुनील कुमार मेयारी गांव में रहते हैं।

सुनील कुमार की हत्या की खबर सामने आने के बाद उनके परिवार में मातम छा गया, गांव में भी दहशत फैली है। हत्या की खबर सामने आने के बाद उनकी बहन अश्वमेध देवी अस्पताल पहुंची।

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस जांच में जुटी है। दिनदहाड़े सत्ताधारी पार्टी के जिलाध्यक्ष के भाई से लूट की घटना ने सबको हैरान कर दिया है। सुशासन की सरकार पर सवालिया निशान भी खड़े हो रहे हैं।

Related Post

कपिल शर्मा शो

कपिल शर्मा शो में खुलासा: इस अभिनेत्री को 21 साल की उम्र में पड़ा था पहला थप्पड़

Posted by - February 27, 2020 0
नई दिल्ली। ‘द कपिल शर्मा शो’ में अक्सर बॉलीवुड सितारे अपनी फिल्मों के प्रमोशन के लिए आते रहते हैं। ऐसे…
Maulana ali jauhar university

मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी को बचाने के लिए अखिलेश करेंगे साइकिल रैली

Posted by - March 8, 2021 0
रामपुर । सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) 12 मार्च को रामपुर आएंगे। यहां वह …

पं. दीनदयाल उपाध्याय के प्रपौत्र बने हरीश रावत के सलाहकार

Posted by - August 5, 2021 0
बहुचर्चित रामपुर तिराहा कांड की पुनर्निरीक्षण-याचिका इलाहाबाद हाईकोर्ट से स्वीकार कराने वाले एवं हिंदी माध्यम से एल-एम.एम. उत्तीर्ण करने वाले…