GBC

ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के लिए अयोध्या में निवेशकों में दिख रहा उत्साह

86 0

अयोध्या। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi)  की अगुवाई में यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (GIS) के सफल आयोजन के बाद अब ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी (Ground Breaking Ceremony) के लिए निवेशकों में खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। अयोध्या में इन्वेस्टर्स समिट के लिए किये गए एमओयू पर निवेशकों ने प्रोजेक्ट कार्य शुरू करने के लिए ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी (Ground Breaking Ceremony) की तैयारियों तेज कर दी हैं।

ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के लिए निवेशकों की 79 इकाइयां तैयार

ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (GIS) के दौरान निवेशकों के हस्ताक्षर के पश्चात् अयोध्या जनपद में 79 इकाइयों में काम या तो शुरू हो चुका हैं या शुरू होने की दहलीज पर पहुंच गया है। उपायुक्त उद्योग अमरेश कुमार पाण्डेय बताते हैं कि जिले में उद्यमियों ने ₹141497.53 करोड़ के प्रोजेक्ट के कार्य प्रारम्भ होने की स्थिति में पहुँच चुके हैं। उनका कहना है कि 79 निवेशकों ने अभी तक ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के सभी मानक पूरा करते हुए कार्य करना शुरू करने के चरण पर आ गए हैं। वैसे इन 79 इकाइयों में 34 फीसदी इकाइयों ने अभी से अपना उत्पादन भी शुरू कर दिया है। शेष बची औद्योगिक इकाई भी जुलाई के आखिर तक अपना काम शुरू कर सकती हैं।

निवेशकों की समस्याओं के निवारण के लिए सघन प्रयास जारी:

योगी सरकार (Yogi Government) की उद्योग स्थापना एवं निर्यात प्रोत्साहन नीति के चलते निवेशकों का प्रदेश में निवेश को लेकर भरोसा बढ़ा हैं। प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 10 से 12 फरवरी तक चले यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (UP GIS) में बड़ी संख्या में प्रदेश स्तर पर उद्यमियों ने निवेश करते हुए एमओयू साइन किए थे। सरकार ने जनपद स्तर पर निवेशकों के उद्योग को धरातल पर उतारने के लिए जिला स्तर पर अधिकारियों को निर्देश दिए। इसके बाद उद्यमियों को इकाई स्थापना के लिए आवश्यक जानकारी और सुविधाएं प्राथमिकता में उपलब्ध कराई जा रही हैं। जिससे निवेशक अपने लक्ष्य के अनुरूप उद्योग स्थापित कर रहे हैं।

नन्द बाबा दुग्ध मिशन के तहत दी जाएगा अनुदान और प्रोत्साहन धनराशि

जनपद अयोध्या में MSME141497.53 हजार करोड़ से अधिक के निवेश पर हस्ताक्षर हुए थे। जिसके पश्चात निवेशकों के प्रस्तावों को धरातल में उतारने के काम ने गति पकड़ी। उपायुक्त उद्योग अमरेश कुमार पाण्डेय के मुताबिक़ सरकार के निर्देश पर निवेश के सभी प्रस्तावों के जमीनी क्रियान्वयन के लिए जनपद में इन्वेस्टमेंट इंप्लीमेंटेशन यूनिट और कॉल सेन्टर का गठन किया गया। इसी का परिणाम है की जिले में ₹2580.37 करोड़ से अधिक के निवेश के कार्य हेतु ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी (Ground Breaking Ceremony) के लिए तय मानक पूरे कर लिए गए हैं।

इकाइयों से 99680 रोजगार का होगा सृजन:

जनपद में यह निवेश अपने साथ प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार के अवसर भी सृजित करेगा। उपायुक्त उद्योग बताते हैं कि इस निवेश से विभिन्न विभागों में 99,680 रोजगार का सृजन होगा। सबसे अधिक रोजगार हाउसिंग डिपार्टमेन्ट में सृजित होंगे। जनपद के बेरोजगार युवाओं के लिए इससे रोजगार के बड़े अवसर मिलेंगे।

Related Post

Congress

द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देते हुए कांग्रेस नेता ने हाईकमान को दी नसीहत

Posted by - July 14, 2022 0
नई दिल्ली: राष्ट्रपति चुनाव नजदीक आ चूका है और इससे पहले उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को समर्थन का सिलसिला चालू है।…