दलित युवक को चार लोगों ने बंदी बनाकर पीटा

दलित युवक को चार लोगों ने बंदी बनाकर पीटा

101 0

जिले में 22 वर्षीय एक दलित युवक को चार लोगों द्वारा कथित तौर पर बंदी बनाकर बेरहमी से प्रताड़ित किये जाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि आरोपियों के परिवार की लड़की से युवक के प्रेम प्रसंग होने के संदेह में उसे प्रताड़ित  किया गया और उसके मलाशय में लोहे की छड़ डाल दी गई। उन्होंने बताया कि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और पीड़ित युवक को जिला अस्पताल भेजा गया है, जहां उसकी स्थिति गंभीर बताई जाती है।

पुलिस ने बताया कि बुधवार रात को दलित युवक को बेरहमी से पीटा गया और उसके निजी अंगों को चोट पहुंचाई गई। युवक के परिवार के सदस्यों ने आरोप लगाया कि हमलावरों ने उसके मलाशय में लोहे की छड़ डाल दी थी। गंभीर हालत में उसे स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां से चिकित्सकों ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जिला अस्पताल में उसकी हालत अब भी गंभीर बताई जा रही है।

फर्जी प्रमाण पत्र जारी करने के मामले में 200 से ज्यादा लोगों पर मामला दर्ज

तिकोनिया के थाना प्रभारी ज्ञान प्रकाश तिवारी ने   बताया कि  पीड़ित  के भाई की शिकायत पर भारतीय दंड संहिता की धारा 323 (चोट पहुंचाने), 506 (आपराधिक धमकी) और एससी  एसटी अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत चार लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।   तिवारी ने बताया कि उन्हें संदेह था कि युवक का उनके परिवार की लड़की से प्रेम संबंध है। सभी चार आरोपियों ब्रह्मदीन और उसके तीन बेटों भरत, गजराज और राजू को इस मामले में गिरफ्तार कर लिया गया है और मामले की विस्तृत जांच जारी है।
पेज 1

Related Post