24 घंटे में और खतरनाक हो सकता है तूफान ‘तौकते’

467 0

गुजरात और महाराष्ट्र समेत 7 राज्यों पर अरब सागर में बन रहे चक्रवात ‘तौकते  (Cyclone Taukte) का खतरा मंडरा रहा है। मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि यह तूफान  (Cyclone Taukte) 24 घंटे में और भी खतरनाक हो सकता है। यह अपनी दिशा बदलकर सोमवार शाम तक गुजरात के तट से टकरा सकता है। इसके करीब 12 घंटे बाद यानि 18 मई की सुबह तक यह चक्रवात पोरबंदर और महुवा (भावनगर) के बीच से गुजरात तट को पार कर सकता है। वहीं, कर्नाटक के 6 जिलों पर इसका काफी बुरा असर पड़ा है। इन जिलों के 73 गांव इससे प्रभावित हुए हैं। राज्य में अब तक 4 लोगों की मौत हो चुकी है। इन 6 जिलों में से 3 समुद्री सीमा से सटे हैं। सभी में पिछले 24 घंटों से भारी बारिश हो रही है। यहां 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा हालात पर नजर बनाए हुए हैं।

तूफान  (Cyclone Taukte) के कारण गोवा के कई जिलों में पावर सप्लाई कट हो गई है। वहीं, केरल के कई जिलों में भारी बारिश हो रही है। मौसम विभाग के मुताबिक तूफान  (Cyclone Taukte) गोवा के तटीय क्षेत्र से टकरा गया है। अब वह गुजरात की ओर तेजी से बढ़ रहा है। इस वजह से मुंबई सहित उत्तरी कोंकण में कुछ स्थानों पर रविवार से ही तेज हवा के साथ भारी बारिश हो सकती है। अलर्ट के चलते बृहन्मुंबई नगर निगम (इटउ) को कोविड केयर सेंटर से 580 मरीजों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट करना पड़ा। बीकेसी से 243, दहिसर से 183 और मुलुंड से 154 मरीजों को निकाला गया।

गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की आशंका

मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 12 घंटों के दौरान इसके बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान  (Cyclone Taukte) में बदलने की आशंका है। यह तूफान 18 मई की सुबह गुजरात के पोरबंदर और महुआ कोस्ट के बीच से गुजरेगा। इस बीच गृह मंत्री अमित शाह ने चक्रवात  (Cyclone Taukte) को लेकर अहम बैठक बुलाई। इसमें राहत और बचाव कार्यों की तैयारियों की समीक्षा की गई। इस वर्चुअल बैठक में महाराष्ट्र और गुजरात के मुख्यमंत्रियों के अलावा दमन और दीव और दादरा नगर हवेली के अधिकारी भी इसमें शामिल हुए।

महाराष्ट्र के जलगांव में एक पेड़ के झोपड़ी पर गिरने से 17 और 12 साल की दो बहनों की मौत हो गई। उनकी मां की हालत गंभीर है।

पुणे जिले की खेद तहसील में चक्रवात से भारी तबाही मची। भोरगिरी और भिवेगांव में 70 घर, 2 आंगनवाड़ी और एक प्राइमरी स्कूल के साथ एक ग्राम पंचायत का आॅफिस भी क्षतिग्रस्त हो गया। चक्रवात  (Cyclone Taukte) के कारण गुजरात में 17 और 18 मई को होने वाले वैक्सीनेशन प्रोग्राम को रोक दिया गया है। मुंबई में भी 17 मई को वैक्सीन नहीं लगेगी। कर्नाटक राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के मुताबिक, चक्रवात ताऊ ते की वजह से पिछले 24 घंटों में 6 जिलों, 3 तटीय जिलों और 3 मलनाड जिलों में भारी से अत्यधिक भारी बारिश हुई।

कर्नाटक के मंत्री शिवराम हेबार ने कहा कि उत्तर कन्नड़ जिले के 5 शहरों में काफी नुकसान हुआ। यहां एक व्यक्ति की जान गई। जबकि 71 घर, 76 नाव और 271 बिजली के खंबों को नुकसान पहुंचा है। गुजरात में चक्रवाती तूफान तौकते  (Cyclone Taukte) को देखते हुए राज्य में एनडीआरएफ टीमें तैनात की गई हैं।

Related Post

ममता बनर्जी

ममता बनर्जी 27 जनवरी को राज्य विधानसभा में एंटी-सीएए प्रस्ताव पेश करेंगी

Posted by - January 21, 2020 0
कोलकाता। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ मोर्चा खोलने वाली पश्चिम बंगाल सरकार ने इसके खिलाफ प्रस्ताव लाने की तैयारी…

लिसीप्रिया कंगुजम बोली-प्रदूषण मुक्त हो दुनिया, वैश्‍व‍िक नेताओं को लिखा ये संदेश

Posted by - November 15, 2019 0
नई दिल्ली। पर्यावरण संरक्षण के लिए स्वीडन की पर्यावरण एक्टिविस्ट के रूप में पूरे विश्व में ग्रेटा थनवर्ग ख्याति अर्जित…