Arvind Kejariwal

दिल्ली में लगाया गया एक हफ्ते का कर्फ्यू,आज रात से होगा लागू

111 0

नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना के केस बेकाबू है, अस्पतालों में बेड्स खाली नहीं है, ऑक्सीजन की शॉर्टेज है। ऐसे में कोरोना की चेन तोड़ने के लिए दिल्ली में एक हफ्ते के सख्त कर्फ्यू (Curfew in Delhi) का फैसला सरकार ने किया है।

  • दिल्ली में कोरोना के कारण हालात खराब
  • दिल्ली में एक हफ्ते तक जारी रहेगा कर्फ्यू

कोरोना वायरस के बढ़ते संकट के बीच दिल्ली में एक बार फिर लॉकडाउन (Curfew in Delhi) लग गया है। सूत्रों की मानें तो दिल्ली में एक हफ्ते का लॉकडाउन लगाया गया है। अब से कुछ देर में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इसका औपचारिक ऐलान करेंगे।

सूत्रों की मानें, तो राजधानी दिल्ली में आज रात से 26 अप्रैल तक लॉकडाउन रहेगा। इस दौरान बिल्कुल वही सख्ती लागू होंगी, जो वीकेंड कर्फ्यू के दौरान थीं।

आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना संकट के कारण हालात अब बेकाबू हो गए हैं। दिल्ली के कई अस्पतालों में बेड्स नहीं हैं, ना ही ऑक्सीजन मिल पा रही है। यही वजह से दिल्ली में अब ये सख्त फैसला लेना पड़ा है।

दिल्ली से जुड़े मुख्य अपडेट्स:

ऑक्सीजन और रेमडेसेविर की कमी को लेकर दिल्ली सरकार ने एक्शन लिया है। एक कंट्रोल रूम बनाया जा रहा है, जिसके अंतर्गत सप्लाई का डाटा रखा जाएगा। सरकार ने इसके लिए नोडल ऑफिसर की नियुक्ति कर दी है।

कोरोना के प्रकोप के बीच दिल्ली में DRDO द्वारा सरदार पटेल कोविड अस्पताल बनाया गया है। यहां अभी 500 बेड्स शुरू किए गए हैं, जिसमें से 250 बेड्स भर भी गए हैं। यहां ऑक्सीजन सप्लाई के साथ-साथ एयर कंडीशन की भी सुविधा है। यहां पर बेड्स की संख्या बढ़ाकर 1000 तक की जाएगी।

दिल्ली में स्कूल बना अस्पताल

कोरोना के कारण हालात इतने खराब हैं कि दिल्ली में एक स्कूल को कोविड अस्पताल बना दिया गया है। यहां ऑक्सीजन वाले 120 बेड्स लगाए गए हैं। इस स्कूल को LNJP अस्पताल से जोड़ा गया है। यहां पर कम लक्षणों वाले मरीजों को लाया जाएगा, डॉक्टर्स की टीम अलग-अलग शिफ्ट में काम करेगी।

दिल्ली में बेड्स का ये है ताजा हाल

दिल्ली सरकार की वेबसाइट के मुताबिक, अभी दिल्ली में 18130 बेड्स हैं, इनमें से 15104 भर गए हैं, जबकि 3026 बेड्स खाली हैं। वहीं, अगर आईसीयू बेड्स की बात करें तो कुल 4206 में से 4105 भर गए हैं और सिर्फ 101 आईसीयू बेड्स ही खाली हैं।

दिल्ली में कोरोना का हाल
•    24 घंटे में आए केस: 25462
•    24 घंटे में हुई मौतें: 161
•    पॉजिटिविटी रेट: 29.64%
•    कुल केस की संख्या: 8,53,460
•    पॉजिटिव केस की संख्या: 74,941
•    अबतक हुई कुल मौतें: 12,121

बेड्स को लेकर दिल्ली में किल्लत

दिल्ली में तेज़ी से बढ़ती एक्टिव केस की संख्या ने अस्पतालों में बेड्स की कमी कर दी है। अब दिल्ली सरकार ने सभी प्राइवेट अस्पतालों, नर्सिंग होम से अपने यहां 80 फीसदी बेड्स सिर्फ कोविड मरीजों के लिए रिजर्व रखने को कहा है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है और मांग की है कि केंद्र सरकार के अस्पतालों में 7000 बेड्स कोविड मरीजों के लिए रिजर्व होने चाहिए।

इस संकट के बीच दिल्ली के कई अस्पतालों में आईसीयू बेड्स पूरी तरह से खत्म हो गए हैं। दिल्ली सरकार की एप पर भी अब कई अस्पताल जीरो ही बेड्स दिखा रहे हैं। बिगड़ते हुए हालातों के बीच दिल्ली में सरकार द्वारा अब बड़े स्टेडियम, मंदिरों, खाली ग्राउंड को कोविड अस्पतालों में बदला जा रहा है और अतिरिक्त बेड्स की व्यवस्था की जा रही है।

Related Post