CM Yogi

उत्तर प्रदेश में हवाई सेवा में हैं अपार संभावनाएं: सीएम योगी

221 0

लखनऊ। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर उनके संसदीय क्षेत्र लखनऊ से अकासा एयर की शुरुआत होगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने राजधानी लखनऊ से अकासा एयर (Akasa Air) की सेवाएं प्रारंभ होने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए अपनी शुभकामनाएं दी हैं। लखनऊ से अकासा एयर (Akasa Air) की पहली उड़ान शुरू होने की पूर्व संध्या पर शनिवार को एयरलाइंस के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री (CM Yogi) को पहला बोर्डिंग पास (प्रतीकात्मक) प्रदान कर मुख्यमंत्री का अभिवादन किया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने लोकसभा में पांच बार लखनऊ का प्रतिनिधित्व किया। आज उनकी जयंती पर लखनऊ से मुंबई और बेंगलुरू के लिए नई हवाई सेवा प्रारंभ हो रही है। यह हम सभी के लिए हर्षदायक है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा प्रारंभ की गई ‘उड़ान’ योजना का उत्तर प्रदेश ने अत्यधिक लाभ प्राप्त किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने ‘हवाई चप्पल पहनने वाले आम आदमी के हवाई उड़ान’ का सपना देखा था। उत्तर प्रदेश में बेहतर होती हवाई सेवाएं, इस स्वप्न के साकार होने जैसी हैं।

एयर एशिया के अधिकारियों से वायुयान के मॉडल, रूट, ईंधन, किराया आदि के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बेंगलुरु-लखनऊ-मुंबई रूट के लिए अकासा एयर अपनी वायुसेवा शुरू कर रही है। इसे वाराणसी से भी जोड़ा जाना चाहिए। यह रूट सर्वाधिक यात्रियों वाला है। यह उत्तर प्रदेशवासियों और अकासा एयर दोनों के लिए अत्यंत उपयोगी सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि विकास की गति को तेज करने में कनेक्टिविटी का बड़ा योगदान है। इस लिहाज से प्रदेश में एक्सप्रेस-वे का निर्माण और अधिकाधिक शहरों को हवाई सेवाओं से जोड़ा जा रहा है। हवाई सेवाओं को बेहतर करने के लिए जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर विकास के लिए प्रदेश सरकार, एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया का सहयोग भी ले रही है।

सीएम योगी ने प्रधानमंत्री मोदी से की मुलाकात

उन्होंने कहा कि 2017 से पहले प्रदेश में मुख्यतः लखनऊ और वाराणसी में ही एयरपोर्ट थे। गोरखपुर और आगरा में आंशिक रूप से क्रियाशील एयरपोर्ट थे। तब चार एयरपोर्ट से मात्र 25 गंतव्यों तक वायुसेवा उपलब्ध थी। आज 09 एयरपोर्ट क्रियाशील हैं और 10 पर काम जारी है। आज प्रदेश से 75 गंतव्यों तक वायुसेवा की सुविधा है। वर्ष 2017 के पहले गोरखपुर से दिल्ली तक केवल एक फ्लाइट थी। आज 14 उड़ानें हैं। मैं जब पूछता हूं तो पता लगता है कि सभी भरकर आती हैं। भरकर ही जाती हैं। इसने गोरखपुर के विकास को नई गति दी है। राज्य सरकार 10 नए एयरपोर्ट का निर्माण करा रही है। अलीगढ़, आज़मगढ़, मुरादाबाद, सहारनपुर, चित्रकूट, श्रावस्ती और सोनभद्र जैसे क्षेत्रों में हवाई सेवा की शुरुआत होने जा रही है। कुछ समय पहले तक यह कल्पनातीत था। चित्रकूट में तो बहुत ऊंचाई पर हवाई अड्डा बन रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश अतिशीघ्र पांच अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट वाला राज्य बनने जा रहा है। वर्तमान में वाराणसी, कुशीनगर और लखनऊ इंटरनेशनल एयरपोर्ट क्रियाशील हैं, जेवर और अयोध्या में एयरपोर्ट का निर्माण जारी है। एयर अकासा के अधिकारियों से मुख्यमंत्री ने कहा कि लखनऊ, वाराणसी अथवा कुशीनगर से काठमांडू के लिए वायुसेवा शुरू की जानी चाहिए। यहां से बौद्ध देशों के लिए भी हवाई उड़ान की सेवाओं की मांग है। इस अवसर पर अकासा एयर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विनय दुबे, सह संस्थापक नीलू खत्री, सह संस्थापक प्रवीण अय्यर, उपाध्यक्ष हरजिंदर सिंह सहित अनेक शीर्षस्थ अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Post

CM Yogi

जनता दरबार में बोले सीएम योगी- हर किसी के साथ न्याय होना चाहिए

Posted by - December 11, 2022 0
गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi)  दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर आए हुए हैं। रविवार की सुबह गोरखनाथ मंदिर के…
CM Dhami

विस में बोले धामी, अतिक्रमण की आड़ में किसी को परेशान नहीं किया जाएगा

Posted by - September 6, 2023 0
देहारादून। पंचम विधानसभा के मानसून सत्र में विपक्ष ने दूसरे दिन अतिक्रमण हटाओ अभियान का मुद्दा भी जोरदार ढंग से…

सपनों के घर में प्रियंका का गृहप्रवेश, तीन बीघा ज़मीन पर बना है यह आशियाना

Posted by - October 1, 2019 0
शिमला। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा 30 सितंबर को शिमला में अपने अरमानों के घर में शिफ्ट हो गयीं। दो…