CM Yogi

योगी की रणनीति से दोनों सीटों पर फहराया भगवा

136 0

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) की रणनीति से भारतीय जनता पार्टी ने विधान परिषद उपचुनाव में जीत हासिल कर ली। भाजपा उम्मीदवार पद्मसेन चौधरी और मानवेंद्र सिंह ने भगवा फहराया। योगी आदित्यनाथ के कुशल रणनीति से अखिलेश यादव की कुटिल चाल धरी की धरी रह गई। दोनों सीटों पर समाजवादी पार्टी को हार का सामना करना पड़ा। उपचुनाव में सात विधायकों ने मतदान नहीं किया। इनमें सपा के तीन, कांग्रेस के दो, सुभासपा और बसपा के एक-एक विधायकों ने मतदान नहीं किया। बता दें कि 13 मई को नगर निकाय मतगणना में भी समाजवादी पार्टी की स्थिति बहुत दयनीय थी। सपा को महापौर की सभी 17 सीटों पर हार का सामना करना पड़ा था।

मानवेन्द्र को 280 और पद्मसेन को मिले 279 मत

विधान परिषद उपचुनाव में कुल 396 वोट पड़े। एक वोट अवैध घोषित किया गया। इसमें से भाजपा के मानवेंद्र सिंह को 280 और पद्मसेन चौधरी को 279 वोट मिले। वहीं समाजवादी पार्टी के रामकरण निर्मल को महज 116 और रामजतन राजभर को 115 वोट ही मिले।

मुख्यमंत्री (CM Yogi) ने सुबह ही डाला वोट, 396 विधायकों ने किया मतदान

उत्तर प्रदेश के 403 में से 396 विधायकों ने वोट दिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुबह लगभग 9 बजे ही विधान भवन प्रांगण में पहुंचकर मतदान किया। वहीं सपा विधायक रमाकांत यादव, इरफ़ान सोलंकी, मनोज पारस, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के विधायक अब्बास अंसारी, कांग्रेस के विधायक अनुराधा मिश्रा ‘मोना’, फरेंदा के विधायक वीरेंद्र चौधरी, बसपा के एकमात्र विधायक उमाशंकर सिंह ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया।

काम आयी योगी (Yogi की रणनीति

निकाय चुनाव में क्लीन स्वीप के बाद विधान परिषद उपचुनाव में भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) की रणनीति काम आई। मुख्यमंत्री ने दोनों सीटों पर कमल खिलाने और अखिलेश यादव की कुटिल चाल को शिकस्त देने के लिए अपने और सहयोगी दलों के विधायकों को सहेज दिया था। 28 मई को नई दिल्ली में नए संसद भवन के उद्घाटन व बैठक के उपरांत मुख्यमंत्री सीधे लखनऊ पहुंचे और विधायकों से संवाद कर जीत का खाका तैयार किया। योगी आदित्यनाथ के प्रबंधन के कारण ही भाजपा के खाते में दोनों सीटें आईं और सपा के उम्मीदवार रामकरण निर्मल और रामजतन राजभर को हार का सामना करना पड़ा।

लक्ष्मण आचार्य के राज्यपाल बनने और बनवारी लाल के निधन से रिक्त हुई सीट पर हुआ मतदान

लक्ष्मण आचार्य के सिक्किम के राज्यपाल बनने और बनवारी लाल दोहरे के निधन से रिक्त हुई विधान परिषद की दोनों सीट पर उपचुनाव हुआ। लक्ष्मण आचार्य का कार्यकाल 2027 व बनवारी लाल का कार्यकाल 2028 तक था। दोनों सीटें फिर से भाजपा की झोली में आई। नवनिर्वाचित सदस्य भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष हैं।

मुख्यमंत्री (CM Yogi) ने विजयी प्रत्याशियों को दी बधाई

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने उत्तर प्रदेश विधान परिषद के सदस्य पद पर हुए उपचुनाव में डबल इंजन सरकार के प्रत्याशी पद्मसेन चौधरी व मानवेन्द्र सिंह को जीत की हार्दिक बधाई दी औऱ उज्ज्वल कार्यकाल की मंगलकामना की।

सोशल मीडिया का कोई दायरा नहीं, दुनिया में पहुंचाएं बदलते भारत की तस्वीर : सीएम योगी

सीएम ने विश्वास जताया कि प्रधानमंत्री के विजन के अनुरूप विजयी दोनों सम्मानित सदस्यों का लोकनिष्ठ आचरण, कर्मठता एवं अनुभव ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश’ के संकल्प की सिद्धि में सहायक होगा।

Related Post

Mamta Banerjee

बंगाल: 4 लोगों की मौत के विरोध में ममता बनर्जी कल कोच बिहार में करेंगी रैली

Posted by - April 10, 2021 0
कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) कल कूचबिहार में उस जगह का दौरा करेंगी, जहां आज फायरिंग…
CJI यौन उत्‍पीड़न मामला

सारदा चिटफंड केस : BJP के इशारे पर काम कर रही CBI, पूर्व पुलिस कमिश्नर का हलफनामा

Posted by - April 17, 2019 0
नई दिल्ली। सारदा चिटफंड केस में कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर…