जैनेन्द्र सवेतन ​बहाल

खण्ड शिक्षा अधिकारी जैनेन्द्र सवेतन ​बहाल, जांच में शासन से मिली क्लीनचिट

54 0

गोण्डा। गोण्डा जिले के बेसिक शिक्षा विभाग में विकासखंड-झंझरी के निलंबित खंड शिक्षा अधिकारी जैनेंद्र कुमार गुप्ता को शासन ने सवेतन बहाल कर दिया है। गुप्ता पर प्राथमिक विद्यालय डडवा क़ानूनगो, झंझरी की सहायक अध्यापिका अंजली चौरसिया ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था, जिसके बाद शासन आरोपों को संज्ञान में लेते हुए उन्हें निलंबित कर दिया था।

चार माह बाद जांच पूर्ण होने पर जैनेन्द्र कुमार गुप्ता को पूर्णतः निर्दोष पाए जाने पर शासन ने सवेतन बहाल

इसके साथ ही उक्त आरोपों की जांच लिए शासन ने कमेटी भी गठित की थी। जांच में सहायक अध्यापिका अंजली चौरसिया की तरफ से पर लगाए गए आरोप असत्य निकले। बता दें कि सहायक अध्यापिका के शिक्षक पति प्रवीण कुमार सागर ने चाइल्ड केयर लीव हेतु षड़यंत्र रच कर हाई वोल्टेज ड्रामा किया था। इसकी खबरें मीडिया में प्रकाशित हुई थी, जिसे शासन ने संज्ञान लेते हुए बिना किसी जांच के जैनेन्द्र कुमार गुप्ता के चिकित्सीय अवकाश पर होने के बावजूद भी 6 जनवरी 2020 को निलंबित कर दिया गया था। चार माह बाद जांच पूर्ण होने पर जैनेन्द्र कुमार गुप्ता को पूर्णतः निर्दोष पाए जाने पर शासन ने सवेतन बहाल कर दिया है।

एशिया दूसरे सबसे बड़े अरबपति जैक मा का जापान के सॉफ्टबैंक के बोर्ड से इस्तीफा

जैनेंद्र कुमार गुप्ता को दोषमुक्त कर सवेतन बहाल किए जाने से विद्यालय निरीक्षक संघ,शिक्षक संघ, शिक्षामित्र व अनुदेशक संगठन के पदाधिकारियों ने हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि अंततः सत्य की जीत हुई। सत्य विचलित हो सकता है परंतु पराजित नहीं।

Loading...
loading...

Related Post

‘छपाक’ की शूटिंग के पहले दिन ही फूट-फूट कर रो पड़ी दीपिका, जानें वजह

Posted by - May 30, 2019 0
इंटरटेनमेंट डेस्क।  दीपिका पादुकोण इनदिनों अपनी आनेवाली फिल्‍म ‘छपाक’ की शूटिंग कर रही हैं। 12 साल में दीपिका पादुकोण ने…
चंद्रबाबू नायडू अपने पोते से दौलत में पिछड़े

चंद्रबाबू नायडू अपने पोते नारा देवंश से दौलत में पिछड़े, जानें कितनी है संपत्ति

Posted by - February 21, 2020 0
अमरावती। आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू अपने 6 वर्षीय पोते से दौलत में पिछड़ गये हैं। तेलुगू देशम…