नक्सली मुठभेड़ में लापता 17 और जवानों के शव बरामद

नक्सली मुठभेड़ में लापता 17 और जवानों के शव बरामद

139 0

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा पर हुई मुठभेड़ में 22 जवानों के शहीद होने की जानकारी मिली है। सुरक्षा बलों ने लापता 17 जवानों के शव बरामद किए हैं। राज्य के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने रविवार को बताया सुरक्षा बलों ने आज घटनास्थल से लापता 17 जवानों के शव बरामद किए हैं।  केंद्रीय गृहमंत्री अपनी असम की चुनावी रैलियां स्थगित कर दिल्ली लौट आए और गृहमंत्रालय के उच्च अधिकारियों के साथ उन्होंने आगे की रणनीति पर विचार विमर्श किया। उन्होंने कहा कि अमन-चैन के दुश्मनों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा। इस बीच उन्होंने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल से भी घटना की जानकारी ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस घटना पर दुख व्यक्त किया और कहा कि हमारी संवेदना शहीदों के परिजनों के साथ है। उन्होंने विश्वास दिलाया कि शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

उन्होंने बताया कि शनिवार को सुकमा जिले के जगरगुंडा थाना क्षेत्र के अंतर्गत जोनागुड़ा गांव के करीब सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी जिसमें पांच जवानों के शहीद होने और 30 अन्य जवानों के घायल होने की जानकारी मिली थी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शहीद जवानों में से दो जवानों के शव सुरक्षा बलों ने बरामद किए थे तथा तीन अन्य जवानों के शव शिविर नहीं लाए जा सके थे। वहीं इस घटना के दौरान 18 अन्य जवानों के लापता होने की जानकारी मिली थी। उन्होंने बताया कि लापता जवानों की तलाश में आज सुरक्षा बलों को रवाना किया गया था।  एक जवान की तलाश की जा रही है, अभी तक घटना में शहीद हुए 22 जवानों के शव बरामद किए गए हैं।

यूपी में 210 किमी का राम वन गमन मार्ग बनेगा

राज्य के नक्सल विरोधी अभियान के पुलिस उप महानिरीक्षक ओपी पाल ने शनिवार को बताया था कि शुक्रवार की रात बीजापुर और सुकमा जिले से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के कोबरा बटालियन, डीआरजी और एसटीएफ के संयुक्त दल को नक्सल विरोधी अभियान में रवाना किया गया था।  इस अभियान में बीजापुर जिले के र्तेम, उसूर और पामेड़ से तथा सुकमा जिले के मिनपा और नरसापुरम से लगभग दो हजार जवान शामिल थे।

पुलिस अधिकारी ने बताया था कि शनिवार दोपहर लगभग 12 बजे बीजापुर-सुकमा जिले की सीमा पर जगरगुंड़ा थाना क्षेत्र (सुकमा जिला)के अंतर्गत जोनागुड़ा गांव के करीब नक्सलियों की पीएलजीए बटालियन तथा र्तेम के सुरक्षा बलों के मध्य मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ तीन घंटे से अधिक समय तक चली।  पाल ने मुठभेड़ में कोबरा बटालियन के एक जवान, बस्तरिया बटालियन के दो जवानों तथा डीआरजी के दो जवानों (कुल पांच जवानों) के शहीद होने की जानकारी दी थी। उन्होंने कुछ जवानों को लापता होने की भी जानकारी दी थी। पुलिस अधिकारी ने बताया है कि इस घटना में 30 जवान घायल हुए हैं। घायल जवानों में से सात जवानों को रायपुर के अस्पताल में तथा 23 जवानों का बीजापुर के अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि सुरक्षा बलों ने घटनास्थल से एक महिला नक्सली का शव बरामद किया है। मुठभेड़ में नक्सलियों को भी काफी नुकसान होने की खबर है। यह भी बताया जा रहा है कि नक्सली दो ट्रैक्टर ट्रालियों में भरकर अपने साथियों का शव ले गए।

 

Related Post

U19WC

U19WC : पांचवी बार विश्व चैंपियन बनने उतरेगा भारत, बांग्लादेश से खिताबी मुकाबला आज

Posted by - February 9, 2020 0
नई दिल्ली। भारत और बांग्लादेश के बीच रविवार को U19WC विश्व कप का फाइनल मुकाबला खेला जाएगा। प्रियम गर्ग की…
अमित शाह

नागरिकता संशोधन कानून के नाम पर देश में दंगे भड़का रही है कांग्रेस: अमित शाह

Posted by - December 14, 2019 0
रांची। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर कांग्रेस के पेट में दर्द हो…

जार्ज फ्लायड मामले में फैसला, दोषी पूर्व पुलिस अधिकारी को साढ़े 22 साल की सजा

Posted by - June 26, 2021 0
अश्वेत अफ्रीकी-अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या (Murder) के मामले में दोषी पाए गए पूर्व पुलिस अधिकारी डेरेक चॉविन (Derek Chauvin)…