सेनाध्यक्ष मनोज मुकुंद नरवणे

सेना प्रमुख नरवणे बोले- चीन के सहारे कब तक बचेगा पाकिस्तान?

195 0

नई दिल्ली। भारतीय सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे ने गुरुवार को कहा कि पाकिस्तान को अपनी कथनी और करनी का बीच का अंतर पाटना ही होगा। पाकिस्तान आखिर चीन के सहारे कब तक अपनी खैर मनाता रहेगा? फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) का दबाव उस पर लगातार बढ़ता जा रहा है, ऐसे में संभल जाने में ही उसकी भलाई है।

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में 15-20 आतंकवादी शिविर

सेना प्रमुख ने हाल में एफएटीएफ की ओर से अपने पूर्ण सत्र में पाकिस्तान के खिलाफ की गई कार्रवाई पर प्रतिक्रिया देते हुए यह बातें कही है। उन्होंने कहा कि हमें इनपुट मिलते रहते हैं। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में 15-20 आतंकवादी शिविर हैं। जहां हर समय करीब 250-350 आतंकवादी मौजूद रहते हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि यह आंकड़ा कम या ज्यादा हो सकता है।

होली से पहले एवेंजर्स के सितारे लेकर आए रिश्तों की अनोखी कहानी ऑनवर्ड 

सेना प्रमुख ने कहा कि यदि एफएटीएफ की ओर से पाकिस्तान पर लगातार और दबाव बढ़ाया जाता रहा तो उसे अपनी कथनी और करनी पर दोबारा विचार करने के लिए मजबूर होना पड़ सकता है। कश्मीर घाटी में आतंकी गतिविधियों में कमी आने में एफएटीएफ को उन्होंने एक प्रमुख कारक भी बताया है।

पाकिस्तान के खिलाफ एफएटीएफ की कार्रवाई से चीन ने भी महसूस कर लिया है कि हर समय अपने इस मित्र का बचाव नहीं कर सकता है

नरवणे ने कहा कि पेरिस में हुई पाकिस्तान के खिलाफ एफएटीएफ की कार्रवाई से चीन ने भी महसूस कर लिया है कि हर समय अपने इस मित्र (पाकिस्तान) का बचाव नहीं कर सकता है। उन्होंने कहा कि हमें इनपुट मिलते रहे हैं। हम बैट (बॉर्डर एक्शन टीम) कार्रवाई कर पाकिस्तानी सेना की ओर से आतंकवादियों की घुसपैठ कराने की किसी भी नापाक हरकत को तुरंत नाकाम करने में सक्षम हैं।

सैनिकों को परिवार का माहौल देगा थल सेना भवन

सेना प्रमुख ने प्रस्तावित थल सेना भवन को लेकर कहा कि थल सेना भवन सेना के मुख्यालय के सभी दफ्तरों-कार्यालयों को एक छत के नीचे लाने में प्रभावी होगा। ताकि कार्य कुशलता में सुधार होने के साथ कार्बन फुटप्रिंट और लॉजिस्टिक की आवश्यकताओं में कमी आएगी। यह शांति काल में दिल्ली में कार्यरत हमारे सभी सैनिकों को एक पारिवारिक माहौल प्रदान करेगा।

Loading...
loading...

Related Post

Yogi_Adityanath with suresh khanna

‘नए भारत के नए उत्तर प्रदेश’ की संकल्पना का आकार है UP Budget 2021-22 : सीएम योगी

Posted by - February 22, 2021 0
लखनऊ। योगी आदित्यनाथ की अगुवाई वाली उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार इस कार्यकाल का अंतिम पूर्ण बजट विधानसभा में पेश…
चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी ने सत्र 2020-21 के लिए नई दाखिला नीति का किया ऐलान

Posted by - December 12, 2019 0
लखनऊ। चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी घड़ुंआं अपने मजबूत और आधुनिक अकादमिक मॉडल, रिर्सच, शैक्षिक प्रबंधों, अंतर्राष्ट्रीय और इंडस्ट्री गठजोड़, विद्यार्थियों की कैंपस…