अमित शाह

अमित शाह बोले- एनआरसी से किसी को डरने की जरूरत नहीं, पूरे देश में करेंगे लागू

238 0

नई दिल्ली। राज्यसभा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह एनआरसी और नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) को लेकर भी पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि एनआरसी की प्रक्रिया सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद शुरू हुई।

अमित शाह ने कहा कि किसी भी धर्म के लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। सरकार मानती है हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी जो शरणार्थी हैं, जो पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आए हैं उनको नागरिकता मिलनी चाहिए। हालांकि इस दौरान अमित शाह ने मुस्लिम शरणार्थियों का नाम नहीं लिया है। इस बीच राज्य सभा अध्यक्ष वेंकैया नायडू ने कहा कि हमारे देश के सभी नागरिक समान है। यहां पर किसी भी तरह से भेदभाव नहीं हो सकता।

Samsung Galaxy W20 का दूसरा फोल्डेबल स्मार्टफोन लॉन्च, 5G को करेगा सपोर्ट 

बता दें कि गृह मंत्रालय ने अगस्त के आखिरी हफ्ते में असम में नेशनल रजिस्टर ऑफ़ सिटिज़ंस (एनआरसी) की फाइनल लिस्ट जारी की थी। इस लिस्ट में 19 लाख 6 हजार 657 लोगों के नाम शामिल नहीं हैं। लिस्ट में कुल 3 करोड़ 11 लाख 21 हजार 4 लोगों को शामिल किया गया है। हालांकि, जिस भी व्यक्ति के नाम फाइनल लिस्ट में नहीं हैं वह फ़ॉरेन ट्रायब्यूनल में अपनी नागरिकता साबित कर सकते हैं और अगर यहां भी उन्हें निराशा मिलती है तो वह हाईकोर्ट या सुप्रीम कोर्ट जा सकते हैं।

मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट ने 2013 में एपीडब्ल्यू की याचिका की सुनवाई के दौरान केंद्र, राज्य को एनआरसी की प्रक्रिया आरंभ करने का आदेश दिया गया। इसके बाद एनआरसी राज्य समन्वयक कार्यालय की स्थापना की गई। साल 2015 में एनआरसी की प्रक्रिया आरंभ हुई। 31 दिसंबर, 2017 को एनआरसी लिस्ट का प्रकाशन हुआ जिसमें 3.29 करोड़ आवेदकों में से 1.9 करोड़ के नाम प्रकाशित किए गए। इसके बाद 30 जुलाई, 2018 को एनआरसी की एक और लिस्ट जारी की गई जिसमें 2.9 करोड़ लोगों में से 40 लाख के नाम शामिल नहीं किए गए। फिर 26 जून, 2019 को एक और लिस्ट जारी की गई जिसमें 1,02,462 लोगों को इस लिस्ट में शामिल किया गया।

शाह ने एक अक्टूबर को कहा था कि संसद नागरिकता संशोधन विधेयक पारित करेगी, जिसके तहत देश में सात साल तक रहने के बाद अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान के हिंदुओं, सिखों, बौद्धों, जैनियों, पारसियों और इसाइयों को नागरिकता प्रदान की जाएगी, भले ही इन लोगों के पास उपयुक्त दस्तावेज नहीं हों।

Loading...
loading...

Related Post

नवरात्रि में व्रत के दौरान न करें ये गलतियां, नहीं करना पड़ सकता है परेशानियों सामना

Posted by - October 2, 2019 0
लखनऊ डेस्क। नवरात्रि के नौ दिनों का उपवास जुड़ी कई ऐसी बातें हैं जिन पर हम अपना ध्यान नहीं देते…
कोरोना वैक्सीन

भारत में इतनी सस्ती होगी कोरोना वैक्सीन, सीरम इंस्टीट्यूट का गेट्स फाउंडेशन से करार

Posted by - August 7, 2020 0
नई दिल्ली। देश में कोरोना ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। इसी बीच कोरोना वैक्सीन को लेकर एक अच्छी खबर…
मिड-डे मील

मिड-डे मील लगेगा ईनाम का तड़का, गुणवत्ता बेहतर बनाने की प्रतिस्पर्धा योजना

Posted by - June 22, 2019 0
नई दिल्ली। देश के स्कूलों में बच्चों को परोसे जाने वाले खाने (मिड-डे मील) की गुणवत्ता पर लगातार सवाल उठते…
आईजी ने अनाथ गौरी को लिया गोद

आईजी मोहित अग्रवाल ने अनाथ गौरी को लिया गोद, बोले- बड़ा अफसर बनाएंगे

Posted by - February 2, 2020 0
फर्रुखाबाद। यूपी के फर्रुखाबाद में बीते दिनों आपरेशन मासूम को यूपी पुलिस ने सफलतापूर्वक खत्म किया था। बता दें कि…