International flights

अंतरराष्ट्रीय उड़ानें फिर से शुरू करने के खिलाफ 69 फीसदी भारतीय

53 0

नई दिल्ली: भारत सरकार (Indian government) ने न केवल भारत में बल्कि अन्य देशों में भी घटते कोविड -19 मामलों को देखते हुए 27 मार्च से सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International flights) को फिर से शुरू करने के लिए तैयार है। भले ही सरकार के नियमों के अनुसार अंतरराष्ट्रीय यात्रा के लिए स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (Ministry of Health and Family Welfare) के दिशानिर्देशों का पालन करना पड़ता है, लेकिन देश में ऐसे कई नागरिक हैं जो इस निर्णय से सहमत नहीं हैं।

कई लोगों की चिंता इस तथ्य से आती है कि भारत में ओमाइक्रोन के बीए 2.2 उप-वंश के मामलों में वृद्धि के आसन्न खतरे के साथ यूरोप और अन्य एशियाई देशों में कोरोनावायरस के मामले बढ़ रहे हैं। वास्तव में, भारतीय SARS-CoV-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (INSACOG) के साथ BA 2.2 संस्करण पहले ही भारत पहुंच चुका है, जो महाराष्ट्र, पुडुचेरी और लद्दाख में ऐसे 10 से अधिक मामलों की रिपोर्टिंग करते हुए कोरोनोवायरस की जीनोम अनुक्रमण करता है।

यह भी पढ़ें : PMGKAY मुफ्त राशन योजना को केंद्र सरकार ने छह महीने के लिए बढ़ाया

लोकलसर्किल, एक शोध थिंक टैंक ने भारत में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू करने के संबंध में एक सर्वेक्षण किया, जिसमें 9,000 से अधिक लोगों ने भाग लिया। शोध के अनुसार, 69% नागरिक वाणिज्यिक अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की पूरी अनुसूची को फिर से शुरू करने के खिलाफ हैं। लोगों से पूछा गया, “कई देशों (दक्षिण कोरिया, हांगकांग, चीन, वियतनाम, जर्मनी, फ्रांस, नीदरलैंड) में COVID मामलों में भारी उछाल जारी है। भारत वर्तमान में 27 मार्च से अपनी वाणिज्यिक अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू करने वाला है। क्या दृष्टिकोण होना चाहिए यह नवीनतम अंतरराष्ट्रीय COVID स्थिति को देखते हुए लेता है?”

यह भी पढ़ें : बड़ा हादसा: चट्टान से टकराकर 100 फीट गहरी खाई में गिरी बस

 

Related Post

नववर्ष उत्सव पर संगीतमय सुन्दरकांड का पाठ

नववर्ष उत्सव पर सुन्दरकांड का पाठ एवं मनोहारी नृत्य नाटिका अर्जुन का मंचन

Posted by - December 31, 2019 0
लखनऊ। गीता परिवार के तत्वावधान में मंगलवार को 20वां प्रचलित नववर्ष उत्सव पर संगीतमय सुन्दरकांड का पाठ एवं मनोहारी नृत्य…