चुनाव आयोग

66 पूर्व नौकरशाह चुनाव आयोग की कार्यशैली पर भड़के, बोले- मोदी सरकार कर रही है मनमानी

425 0

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण की वोटिंग होने में दो दिन शेष हैं, लेकिन इसी बीच देश के 66 पूर्व नौकरशाहों ने चुनाव आयोग की कार्यशैली पर सवाल उठाया है। इसके साथ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर चिंता जताई है।

आर्दश आचार संहिता के पालन के प्रति चुनाव आयोग की भूमिका को लेकर गहरी चिंता जताई

पूर्व नौकरशाहों ने लिखे पत्र में लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान आर्दश आचार संहिता के पालन के प्रति चुनाव आयोग की भूमिका को लेकर गहरी चिंता जताई है। बता दें कि पूर्व विदेश सचिव शिवशंकर मेनन, दिल्ली के पूर्व उपराज्यपाल नजीब जंग, पंजाब के पूर्व डीजीपी जुलियो रिबेरो, प्रसार भारती के पूर्व सीईओ जवाहर सरकार और ट्राई के पूर्व चेयरमैन राजीव खुल्लर जैसे पूर्व नौकरशाह ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर अपना विरोध दर्ज कराया है।

ये भी पढ़ें :-राहुल ने पीएम पर किया हमला, कहा- क्या आप भ्रष्टाचार पर बहस से डरते हैं? 

पत्र में नरेंद्र मोदी पर बनी बायोपिक फिल्म, नमो टीवी, वेब सीरीज और बीजेपी के कई नेताओं के आपत्तिजनक भाषणों का जिक्र

पूर्व नौकरशाहों ने अपने पत्र में देश में लागू आचार संहिता लागू होने व इसके पालन के प्रति चुनाव आयोग की भूमिका को कठघरे में खड़ा किया है। नौकरशाहों ने चुनाव आयोग की शिकायत करते हुए ‘मिशन शक्ति’ के दौरान एंटी सैटेलाइट मिसाइल के सफल परीक्षण के बाद पीएम मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन पर सवाल उठाए हैं। इतना ही नहीं इस पत्र में नरेंद्र मोदी पर बनी बायोपिक फिल्म, नमो टीवी, वेब सीरीज और बीजेपी के कई नेताओं के आपत्तिजनक भाषणों का जिक्र भी किया गया है।

नरेंद्र मोदी के मनमाने कामकाज से साफ है कि चुनाव आयोग के प्रति भी उनके मन में कोई सम्मान नहीं

पूर्व नौकरशाहों ने लिखे पत्र में आरोप लगाया है कि लोकसभा चुनाव 2019 में आचार संहिता का खूब उल्लंघन हो रहा है, लेकिन इसमें चुनाव की भूमिका सवालिया है। चुनाव आयोग ने सिर्फ दिखावे की कार्रवाई कर रहा है। जबकि मौजूदा मोदी सरकार के नेता अपने रुतबे का मनमाने ढंग से उपयोग कर आचार संहिता की धज्जियां उड़ा रही है। उनके मनमाने कामकाज से साफ है कि चुनाव आयोग के प्रति भी उनके मन में कोई सम्मान नहीं है।

ये भी पढ़ें :-महिलाएं अब उत्पीड़न की शिकायत कहीं भी करा सकती हैं दर्ज : सुप्रीम कोर्ट

बता दें कि पूर्व नौकरशाहों ने राष्ट्रपति को पत्र लिखने से पहले चुनाव आयोग को भी पत्र लिखकर आचार संहिता के उल्लंघन को रोकने की बात कही थी। इस पत्र में उन्होंने मोदी बायोपिक फिल्म समेत कई और मुद्दों पर चिंता जताई थी। खबरों के मुताबिक, अब यही शिकायत उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी की है।

एंटी सैटेलाइट मिसाइल के सफल परीक्षण के बाद पीएम मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन पर सवाल उठाए

बता दें कि इस समय देश में हो रहे लोकसभा चुनाव 2019 के कारण आचार संहिता लागू है, लेकिन बीजेपी नेताओं द्वारा इसका जमकर उल्लंघन किया जा रहा है। हाल ही में पीएम मोदी ने एंटी सैटेलाइट वेपन की लॉन्चिंग पर चुनाव आचार संहिता लागू होने के बावजूद देश को संबोधित किया था। इसके अलावा विपक्षी लॉन्च हुए नमो टीवी को लेकर भी विपक्ष ने चुनाव आयोग से सवाल किया था। इसके अलावा यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और मोदी के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने चुनावी रैली में भारतीय सेना को मोदी की सेना कहा था। इन सभी मुद्दों को लेकर विपक्ष उठा चुकी और चुनाव आयोग से कार्रवाई की मांग भी कर चुकी है।

Loading...
loading...

Related Post

दिल्ली चुनाव

LIVE Delhi Election 2020: नामांकन भरने पहुंचे केजरीवाल, हजारों के साथ रोड शो शुरू

Posted by - January 20, 2020 0
नई दिल्ली। जीत का दावा करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज सोमवार को अपने तीसरे विधानसभा चुनाव के…
भगवान बुद्ध के उपदेश

कोरोना महामारी काल में भी भगवान बुद्ध के उपदेश हैं प्रासंगिक : रामनाथ कोविंद

Posted by - July 4, 2020 0
नई दिल्ली । राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को कहा कि कोरोना जैसी महामारी ने जहां पूरी दुनिया में जिन्दगियां…
भारत-पाकिस्तान का वॉर्मअप मैच

आईसीसी वर्ल्ड कप टी-20: बारिश ने फेरा पानी भारत-पाकिस्तान का वॉर्मअप मैच रद्द

Posted by - February 16, 2020 0
नई दिल्ली। भारतीय महिला टीम और पाकिस्तान के बीच रविवार को होने वाला वार्मअप मैच बारिश की वजह से रद्द…