उद्यमी वसीम अख्तर का मानना ​​है कि “जरूरतमंद लोगों की मदद करना ही सबसे बड़ा धर्म है,”

73 0

वसीम अख्तर, जो एक पत्रकार रह चुके हैं और अपना ऑनलाइन न्यूज पोर्टल चलाते हैं, चल रहे लॉकडाउन में गरीब और जरूरतमंद लोगों की मदद कर रहे हैं। वे न केवल लोगों की आर्थिक मदद कर रहे है बल्कि मानवता की भी सही मिसाल कायम कर रहे है।

वसीम अख्तर बताते हैं, “लॉकडाउन के पहले 14 दिनों के दौरान में ज़रूरतमंद और ग़रीब लोगों के दुखद वीडियोस देखने के बाद बहुत परेशान था। लेकिन फिर मैंने कोरोना वायरस के डर के बावजूद अपने घर से बाहर जाने और इन गरीब लोगों की मदद करने का फैसला किया। हम हर रोज लगभग 200 लोगों को राशन की आपूर्ति करते हैं ताकि उनके परिवार भूखे पेट न सोएं। ”

उन्होंने कहा, ‘हम उन लोगों से संपर्क कर रहे हैं जो पिछले 70 दिनों से अपने घरों में बंद हैं । वे किसी से भोजन भी नहीं माँग सकते हैं या फिर वे किराने की दुकानों के बाहर लंबी कतारों में भी नहीं खड़े हो सकते हैं। हम यह भी सुनिश्चित कर रहे हैं कि जो स्थान दुर्गम हैं, हम उनकी जरूरतों के हिसाब से उनके खाते में पैसे भी ट्रांसफर कर रहे हैं’। हम कुर्ला और वीटी स्टेशनों पर प्रवासियों को भोजन भी खिला रहे हैं। वीटी स्टेशन पर, तमिलियन प्रवासियों का एक समूह था, जिसमें 6 महिलाएं और 2 पुरुष थे, वो हिंदी या अंग्रेजी भाषा नहीं जानते थे, और असहाय थे और कहीं जा नहीं पा रहे थे , तब हमने उन्हें उनके मूल निवास तक भेजा।

“इस सब के अलावा, हमारी गिविंग केयर फाउंडेशन ने वर्ली श्मशान में एक 65 वर्षीय व्यक्ति के अंतिम संस्कार को भी वित्त पोषित किया। हमने कोलकाता की एक महिला की डिलीवरी का खर्च भी उठाया, जिनके पति बॉम्बे में फँसे हुए थे। इसके साथ ही, लॉकडाउन में उपलब्ध अपर्याप्त सुविधाओं के साथ, एक छोटी लड़की का लंबी बीमारी के कारण निधन हो गया और उसके माता-पिता, जो जोगेश्वरी क्षेत्र की सड़कों पर अपना जीवन बिताते हैं, के पास पैसे की कमी थी। मैंने व्यक्तिगत रूप से उसके अंतिम संस्कार की व्यवस्था की, जबकि अन्य लोगों ने वायरस के खतरे के कारण अपने हाथ पीछे कर ,”।

“एक मुस्लिम होने के नाते, मैं सभी साथी मुसलमानों से आग्रह करता हूं कि ईद की खरीदारी के लिए अपने खर्चों को सीमित करें, बल्कि ऐसे समय में गरीबों और जरूरतमंदों की मदद करें”।

Loading...
loading...

Related Post

दूरदर्शन – 90 की दशक की याद दिलाती बेहद खूबसूरत और इमोशनल फ़िल्म (News Helpline Review: 3.5 Star)

Posted by - February 28, 2020 0
डायरेक्टर – गगन पुरी स्टार-कास्ट – माही गिल, मनु ऋषि, डॉली अहलूवालिया, सुप्रिया शुक्ला, राजेश शर्मा, महक मनवानी, सुमित गुलाटी,…