नई दिल्ली। हमारी अच्छी सेहत के लिए अच्छी नींद बेहद जरूरी है। कई बार नींद न पूरी होने पर ऑफिस में लोग अनमने से रहते हैं। इस कारण से हमारी कार्य क्षमता पर भी पड़ता है। अच्छी नींद न सिर्फ याददाश्त के लिए फायदेमंद है, बल्कि यह रोग प्रतिरोधक क्षमता में भी इजाफा करती है। नए शोध में यह बात सामने आई है। जब शरीर पर किसी बैक्टीरिया या वायरस का हमला होता है, तो रोग प्रतिरोधक प्रणाली, दिमाग में मेमरी-टी कोशिकाओं का निर्माण होता है। तनाव और अवसाद की वजह से कई बार लोगों में अनिद्रा की समस्या सामने आती है। इससे लोगों की प्रजनन क्षमता भी प्रभावित होती है।

यह जानकारी नीदरलैंड के आरहूस यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स ने वियना के ‘यूरोपियन सोसायटी ऑफ ह्युमन रिप्रोडक्शन एंड एंब्रीओलॉजी’ के एक कार्यक्रम में दी। उन्होंने कहा कि पूरी नींद न ले पाने की वजह से पुरुषों का स्पर्म काउंट कम हो जाता है, जिससे कि उनकी बच्चा पैदा करने की क्षमता प्रभावित होती है।

शोध में शोधकर्ताओं ने ये भी बताया है कि सेहतमंद जीवन के लिए सामान्य रूप से आठ घंटे की नींद लेना जरूरी है। पूरी नींद लेने से शरीर की चयापचय दर सुचारु रूप से काम करती है। जिससे कि शरीर बेहतर ढंग से काम करता है और पाचन तंत्र भी अच्छा रहता है। अनिद्रा की वजह से मेटाबॉलिज्म बुरी तरह प्रभावित होता है, जिससे कि तनाव, थकान, अवसाद और प्रजनन क्षमता कम होने जैसे समस्याएं सामने आती हैं?

मेमरी-टी कोशिकाएं संभावित तौर पर रोगाणुओं से संबंधित जानकारियों को रखने का काम करती हैं। अब जर्मनी के शोधकर्ताओं ने शोध के बाद कहा है कि गहरी नींद लेने से मेमरी-टी कोशिकाओं को मजबूती मिलती है, जिससे संक्रमण से लड़ने में मदद मिलती है।

Loading...
loading...