यूपी बोर्ड

UP Board Result 2019 : यूपी बोर्ड से शिकायतों के लिए यहां क्लिक छात्र करें

474 0

प्रयागराज। यूपी बोर्ड ने 10वीं और 12वीं का रिजल्ट शनिवार को जारी कर दिया है। इस साल 10वीं में 80.07 फीसदी और 12वीं में 70.06 फीसदी छात्र पास हुए हैं। हाईस्कूल में 83.98 फीसदी लड़कियां और 76.66 फीसदी लड़के पास हुए है। वहीं इंटरमीडिएट (12वीं) में 76.46 फीसदी लड़कियां और 64.40 फीसदी लड़के पास हुए हैं।

यूपी बोर्ड के पांच क्षेत्रीय कार्यालयों में परीक्षार्थी ग्रीवांस सेल शुरू,29 मई तक रहेगा प्रभावी

इसी कड़ी में यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा में सम्मिलित छात्र-छात्राओं की सुविधा के लिए बोर्ड मुख्यालय और पांचों क्षेत्रीय कार्यालयों में परीक्षार्थी ग्रीवांस सेल (सहायता कक्षा) का गठन किया है। यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि प्रयागराज, वाराणसी, गोरखपुर, मेरठ और बरेली के क्षेत्रीय कार्यालयों में परीक्षार्थी ग्रीवांस सेल शुरू कर दिया गया है। ये सेल 29 मई तक प्रभावी रहेगा।

ये भी पढ़ें :-UP Board Result 2019: यूपी बोर्ड के 12 वीं 10 के नतीजे घोषित 

मुख्यालय समेत सभी क्षेत्रीय कार्यालयों के लिए अलग-अलग फोन नंबर और ई-मेल जारी

सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि मुख्यालय समेत सभी क्षेत्रीय कार्यालयों के लिए अलग-अलग फोन नंबर और ई-मेल किए गए जारी किए गए हैं। परीक्षार्थी हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षाओं से संबंधित अपनी समस्याएं दर्ज करा सकेंगे। प्रयागराज स्थित मुख्यालय के लिए फोन नंबर 0532-2623182 और ई-मेल upmsp.rediffmail.com, प्रयागराज क्षेत्रीय कार्यालय के लिए फोन नंबर 0532-2423265 और ई-मेल roallahabad@gmail.com, वाराणसी क्षेत्रीय कार्यालय के लिए फोन नंबर 0542-2509990 और ई-मेल rovaranasi@gmail.com. जारी किए गए हैं। क्षेत्रीय कार्यालय गोरखपुर के लिए फोन नंबर 0551-2205271 और ई-मेल rogorakhpur@gmail.com, क्षेत्रीय कार्यालय मेरठ के लिए फोन नंबर 0121-2660742 और ई-मेल romeerut@gmail.com, क्षेत्रीय कार्यालय बरेली के लिए फोन नंबर 0581-2576494 और ई-मेल robareilly@gmail.com पर परीक्षार्थी अपनी शिकायतें दर्ज करा सकेंगे।

ये भी पढ़ें :-UP Board Result 2019: 12वीं का रिजल्ट अब 1 बजे होगा घोषित, छात्र कर लें ये तैयारी 

2018 में यूपी बोर्ड का रिजल्ट 29 अप्रैल को किया गया था घोषित

यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि 2018 में यूपी बोर्ड का रिजल्ट 29 अप्रैल को घोषित किया गया था। तब भी यह पिछले कई दशकों में सबसे जल्दी घोषित किया गया रिजल्ट था। बोर्ड कॉपियों के मूल्यांकन के लिए 1 लाख 24 हजार 796 परीक्षकों की ड्यूटी लगायी गयी थी।

Related Post

पूर्वोत्तर में हिंसा

संसदीय कार्यमंत्री लोकसभा में बोले-कांग्रेस कर रही है पूर्वोत्तर में हिंसा फैलाने की कोशिश

Posted by - December 12, 2019 0
नई दिल्ली। केंद्र सरकार के संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने लोकसभा में गुरुवार को कांग्रेस पर पूर्वोत्तर में हिंसा भड़काने…
Rahul Gandhi

लॉकडाउन हटाने में सावधानी नहीं बरता, तो भारत को चुकाना होगा भारी खामियाजा : राहुल गांधी

Posted by - May 16, 2020 0
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि कोविड-19 को हराने के लिए लॉकडाउन हटाने में बड़ी…