हरियाणा से विदेशों तक अपने ब्रांड को ले गईं ये महिला, जानें कैसे

289 0

नई दिल्ली। लंदन कॉलेज ऑफ फैशन में ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करने वाली हरियाणा के रेंगे की संस्थापक शीना उप्पल अपने उत्पादों को पहचान ही नही दिलाई, बल्कि विदेशों में भी उन्हें लोकप्रिय कर दिया। भारत जैसे देश में बेटियां अपने सपनों को कम ही पूरा कर पाती हैं, जो पूरा कर लेती हैं वो अन्य के लिए नजीर बन जाती हैं।

ये भी पढ़ें :-KBC 11: पैतृक गांव में शिव मंदिर बनवाना चाहती है करोड़पति बनीं यह महिला 

आपको बता दें शीना का परिवार पिछले तीन दशकों से टेक्सटाइल और मैन्युफैक्चरिंग से जुड़ा है। फैशन के प्रति अपनी ललक के चलते शीना ने अपनी निजी बचत से फरवरी 2016 में फरीदाबाद में रेंगे की शुरुआत की थी। फरीदाबाद में रेंगे के नाम से कपड़ों के एक शोरूम की संस्थापक शीना ने अपने उत्पादों के जरिये न केवल भारतीयों के बल्कि विदेशियों के मन में भी जगह बना ली है।

ये भी पढ़ें :-इस महिला की मेहनत के आगे आर्थिक परेशानी नहीं बन सकती बाधा 

जनकारी के मुताबिक गे की फरीदाबाद में अपनी खुद की यूनिट है और स्थानीय क्षेत्र के 800 लोगों को रोजगार देती है। यह कच्चे माल जैसे कॉटन ब्लेंड्स, लटकन, लिनन, मोडा आदि को दिल्ली से खरीदता है। शीना खुद से इसकी डिजाइनों की देखभाल करती हैं।

Loading...
loading...

Related Post

सिमरन निशा

लखनऊ: महिला रंगकर्मी सिमरन निशा ने जानें कैसे तय किया थिएटर से स्क्रीन तक का सफर?

Posted by - December 1, 2019 0
लखनऊ। रंगमंच सिर्फ मनोरंजन नहीं, बल्कि प्रतिभा है। यह चेहरा नहीं किरदार देखता है। महिलाओं को इसे आत्मसात करके मंच…
सात फीसदी घटा सोने का आयात

अप्रैल-दिसंबर के बीच सात फीसदी घटा सोने का आयात, इसी से कम हुआ व्यापार घाटा

Posted by - January 26, 2020 0
नई दिल्ली। देश में सोने का आयात चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-दिसंबर महीने में 6.77 प्रतिशत घटकर 23 अरब डॉलर…