राफेल डील पर मोदी सरकार ने बढ़ाया अगला कदम,25% रकम फ्रांस को चुकाई

548 0

नई दिल्ली।राफेल मुद्दे को लेकर लगातार विपक्ष आरोप लगता आ रहा है इसे बीच खबर आई है कि मोदी सरकार ने राफेल डील अपना कदम आगे बढ़ा दिया है। ये भी कहा जा रहा है कि सरकार ने 36 लड़ाकू विमानों के ऐवज में 25% रकम फ्रांस को चुका दी है। यह डील 59 हजार करोड़ रुपए की मानी जा रही है।

साथ ही वायुसेना के सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि सितंबर 2016 की डील के मुताबिक वायुसेना को भारत की जरूरतों के मुताबिक 36 तैयार राफेल विमान मिलने हैं। डील के नियम-शर्तों के मुताबिक एक चौथाई रकम फ्रांस सरकार को चुकाई जा चुकी है। सरकार चाहती है कि तय शेड्यूल के मुताबिक सितंबर 2019 में पहले राफेल लड़ाकू विमान की भारत को डिलीवरी मिल जाए। उम्मीद है कि इसके बाद 2020 के मध्य तक भारत को चार राफेल विमानों का पहला जत्था भी मिल जाएगा।

सुप्रीम कोर्ट ने अदालत की निगरानी में राफेल डील की जांच की मांग से जुड़ी सभी याचिकाएं 14 दिसंबर को खारिज कर दी थीं। कोर्ट ने कहा था कि राफेल विमान खरीद की प्रक्रिया में शक की कोई गुंजाइश नहीं है। इसमें कारोबारी पक्षपात होने जैसी कोई बात सामने नहीं आई है।

बता दें कि सरकार ने कोर्ट को बताया था कि राफेल विमान खरीदने का फैसला सालभर में 74 बैठकों के बाद किया गया। 126 राफेल खरीदने के लिए जनवरी 2012 में ही फ्रांस की दैसो एविएशन को चुन लिया गया था। लेकिन, दैसो और हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) के बीच आपसी सहमति नहीं बन पाने से ये सौदा आगे नहीं बढ़ पाया। एचएएल को राफेल बनाने के लिए दैसो से 2.7 गुना ज्यादा वक्त चाहिए था।

गौरतलब है कि राफेल का फ्रेंच में मतलब तूफान होता है। दैसो कंपनी इसी नाम से लड़ाकू विमान बनाती है।राफेल विमान एक मिनट में 60 हजार फीट की ऊंचाई तक पहुंच सकता है। इसकी रेंज 3700 किमी है।यह विमान 2200 से 2500 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ सकता है।वायुसेना के पास विमानों की 32 स्क्वॉड्रन हैं, जबकि जरूरत 42 स्क्वॉड्रन की है। राफेल से नई स्क्वॉड्रन बनाई जा सकेगी।

Related Post

यामी गौतम

मीडिया इवेंट में यामी से पूछा गया मजेदार सवाल, सोशल मीडिया पर झाया जवाब

Posted by - December 9, 2019 0
बॉलीवुड डेस्क। फिल्मी दुनिया के सभी सितारे जब भी कोई फिल्म बनाते हैं, तो फिर वह काफी दिनों तक सुर्खियों…

उत्तर भारत और दिल्ली में भीषण ठंड,कश्मीर में 40 दिन का ‘चिल्लईं कलां’ शुरू

Posted by - December 22, 2018 0
नयी दिल्ली।शीतलहर ने जहाँ पूरे उत्तर भारत को अपनी चपेट में ले लिया है।वहीँ देश की राजधानी दिल्ली में न्यूनतम…
पूर्व प्रधान न्यायाधीश गोगोई

पूर्व प्रधान न्यायाधीश गोगोई ने राज्यसभा सांसद की शपथ , विपक्ष का वॉक आउट

Posted by - March 19, 2020 0
नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट के पूर्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने गुरुवार को राज्यसभा संसद की शपथ ली।  इस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *