इरफान पठान

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज इरफान पठान ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास

209 0

नई दिल्ली। टीम इंडिया के तेज गेंदबाज इरफान पठान ने शनिवार शाम को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का एलान किया है। पठान ने कहा कि आज मैं क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले रहा हूं। हालांकि यह मेरे लिए भावुक पल है, लेकिन यह ऐसा पल है जो हर खिलाड़ी की जिंदगी में आता है।

इरफान पठान ने कहा कि मुझे सचिन तेंदुलकर, सौरभ गांगुली, वीवीएस लक्ष्मण और द्रविड़ जैसे महान खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौका मिला है। जिसकी हर किसी को तमन्ना होती है। उन्होंने अपने टीम के सभी सदस्यों, सभी कोच, सपोर्टिंग स्टाफ और फैंस का शुक्रिया अदा किया। पठान ने कहा कि मैं उन सभी साथियों का धन्यवाद करना चाहता हूं, जिन्होंने मेरा हमेशा सपोर्ट किया है।

संन्यास का एलान करते समय वह भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि मैं उस खेल से विदा ले रहा हूं, जो मुझे सबसे अधिक प्यारा है। इरफान ने अपना इंटनेशनल डेब्यू साल 2003 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडीलेड के मैदान पर किया था। उन्होंने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दो अक्तूबर 2012 को खेला था।

रिदा हाॅस्पिटल की लापरवाही से हुई मरीज की मौत, परिजनों ने लगाया आरोप 

पठान ने भारत के लिए 29 टेस्ट मैच खेला है। उनके नाम 32.26 की औसत से 100 विकेट दर्ज हैं, जबकि उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 59 रन देकर सात विकेट रहा है। टेस्ट में उन्होंने दो बार 10 या उससे अधिक विकेट और सात बार पांच विकेट लेने का कारनामा किया है। इस दौरान उन्होंने 31.57 की औसत से 1105 रन भी बनाए, जिसमें एक शतक और छह अर्धशतक भी शामिल हैं।

पठान ने 120 वन-डे मैच में 173 विकेट चटकाए हैं और 1544 रन भी बनाए हैं। उनके नाम अर्धशतक भी हैं। जबकि टी-20 में इरफान ने 24 मैच में 28 विकेट लिए हैं और 172 रन बनाए हैं।

Loading...
loading...

Related Post

कैलाश खेर

कैलाश खेर अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप का गीतों से करेंगे स्वागत, गाएंगे ये गाने

Posted by - February 22, 2020 0
नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ 24 फरवरी को दो दिवसीय भारत यात्रा पर…
भारत गौरव अलंकरण

ब्रिटिश पार्लियामेंट में निर्भया की मां आशा देवी को मिलेगा भारत गौरव अलंकरण

Posted by - March 20, 2020 0
नई दिल्ली। निर्भया के गुनहगारों को लंबे संघर्ष के बाद फांसी के तख्ते तक पहुंचाकर न्याय हासिल करने वाली निर्भया…