तालिबानी आतंकियों ने की सरकार के मीडिया प्रमुख की हत्या

580 0

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार तालिबान के एक प्रवक्ता ने कहा मेनापाल की हत्या मुजाहिदीन द्वारा किए गए एक खास हमले में की गई और उनके कर्मों के लिए सजा दी गई। उल्लेखनीय है कि युद्धग्रस्त देश में विरोधियों की आवाजें दबाने के लिए तालिबानी आतंकवादी कई हत्याएं कर चुके हैं। इनमें सामाजिक कार्यकर्ता, नौकरशाह, न्यायाधीश शामिल हैं।

बता दें कि तालिबान और अफगानिस्तान के सुरक्षा बलों के बीच लड़ाई पिछले कुछ महीनों में तेज हुई है। अमेरिकी और नाटो सैनिकों ने भी अफगानिस्तान से अपने सैनिकों को पूरी तरह से वापस बुला लिया है। ऐसी स्थिति में तालिबान छोटे प्रशासनिक जिलों को अपने नियंत्रण में ले चुका है और अब प्रांतीय राजधानियों को कब्जा करने की कोशिशें कर रहा है।

वहीं, भारत ने गुरुवार को कहा था कि वह छह अगस्त को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) की बैठक में अफगानिस्तान में बिगड़ रहे हालात को लेकर अपने विचार साझा करेगा। इसके साथ ही, तालिबान की हिंसा को देखते हुए व्यापक संघर्ष विराम के लिए जोर देगा। उल्लेखनीय है कि अगस्त माह के लिए यूएनएससी की अध्यक्षता भारत के पास है।

अगले साल मार्च तक आ जाएगी सीरम की ‘कोवोवैक्स’

संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के अनुसार अफगानिस्तान में बढ़ते संघर्ष के कारण इस साल की शुरुआत से लेकर अब तक करीब तीन लाख 60 हजार लोग विस्थापित होने के लिए मजबूर हुए हैं। अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र के सहायता अभियान ने शहरी इलाकों में लड़ाई तुरंत बंद करने का आह्वान किया है। इसने कहा है कि आम जनता हिंसा का शिकार हो रही हैं।

Related Post

Toolkit Case: दिशा रवि की याचिका पर पुलिस ने दिल्ली HC में दिया जवाब, बोले- “हमने नहीं लीक की कोई जानकारी”

Posted by - August 5, 2021 0
दिल्ली पुलिस ने गुरुवार को दिल्ली हाई कोर्ट  को बताया कि उसने जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि के खिलाफ चल रही…

ट्यूनीशिया में बनीं पहली महिला प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति कैस सईद ने किया नियुक्त

Posted by - September 30, 2021 0
ट्यूनिश। ट्यूनीशिया के राष्ट्रपति कैस सईद ने एक प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग स्कूल की प्राध्यापक नजला बौदेंत रमजाने को देश की पहली…

जोधा-अकबर का उदाहरण दे इलाहाबाद HC ने कहा- महज शादी के लिए धर्म परिवर्तन गलत

Posted by - August 3, 2021 0
लव जिहाद के मामले की सुनवाई के दौरान इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मुगल बादशाह अकबर और जोधाबाई की शादी का उदाहरण…

पुलिस थानों में मानवाधिकारों को बड़ा खतरा, विशेषाधिकार प्राप्त लोगों को भी दिया जाता है थर्ड डिग्री: CJI

Posted by - August 9, 2021 0
मुख्य न्यायाधीश एन.वी. रमन्ना ने रविवार को कहा कि पुलिस थानों में मानवाधिकारों को सबसे ज्यादा खतरा है। दरअसल एनएएलएसए के…