चारों ओर से घिरी AAP,प्रस्ताव में राजीव गांधी से भारत सम्मान वापस लेने की बात

581 0

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी हर तरफ से घिरती नज़र आ रही है। पार्टी और सरकार के भीतर प्रस्ताव को लेकर अलग-अलग तरह के दावे किए जा रहे हैं। एक तरफ बागी तेवर अपनाती दिख रहीं अलका लांबा का कहना है कि प्रस्ताव में राजीव गांधी से भारत सम्मान वापस लेने की बात पहले से छपी थी, जबकि विधानसभा स्पीकर राम निवास गोयल का कहना है कि मूल प्रस्ताव में राजीव गांधी का जिक्र नहीं था और विधायक जरनैल सिंह ने भावावेश में आकर हाथ से यह लिखा था। इस बीच विधानसभा की कार्यवाही के एक वायरल विडियो में गोयल राजीव गांधी विरोधी प्रस्ताव पास को स्वीकार करते दिख रहे हैं। ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि क्या राजीव गांधी पर केजरीवाल सरकार यू-टर्न ले रही है या फिर अलका लांबा का दावा ही खोखला है।

साथ ही बता दें कि इस पूरे विवाद पर आम आदमी पार्टी और केजरीवाल सरकार, दोनों सीधे तौर पर कुछ भी कहने से बच रहे हैं। शनिवार सुबह मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से जब मीडिया ने इस प्रस्ताव पर सरकार का पक्ष जानने की कोशिश की, तो वह बिना कुछ बोले ही निकल गए।

दरअसल विधानसभा की कार्यवाही का जो विडियो मीडिया रिपोर्ट्स में दिखाया जा रहा है, उसके मुताबिक सदन में पढ़े गए प्रस्ताव में भी राजीव गांधी का जिक्र था। विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल का कहना है कि ऐसा कोई प्रस्ताव विधानसभा में पारित नहीं हुआ है। इस पर वोटिंग भी नहीं हुई। उन्होंने कहा कि प्रस्ताव पर हाथ से जरनैल सिंह ने कुछ लिखा था, लेकिन यह मूल प्रस्ताव का हिस्सा नहीं था। उन्होंने भावावेश में आकर लिखा था, लेकिन उन्होंने खुद अपने भाषण में नहीं कहा था कि मेरे प्रस्ताव में यह जोड़ दिया जाए। यही नहीं गोयल ने अलका लांबा के उस दावे को भी खारिज कर दिया कि उन्होंने प्रस्ताव के विरोध में विधानसभा से वॉकआउट किया था। हालांकि अलका लांबा ने ट्वीट में प्रस्ताव की जो कॉपी ट्वीट की है, उसमें दिखता है कि राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लेने का प्रस्ताव प्रिंटेड है।

बता दें कि इस पूरे विवाद के केंद्र में चांदनी चौक से आप की विधायक अलका लांबा हैं। लांबा का दावा है कि पार्टी ने उन्हें अपने भाषण में राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लेने के प्रस्ताव का समर्थन करने को कहा था। उनके मुताबिक प्रस्ताव में पहले से राजीव गांधी वाली बात टाइप थी। लांबा अपने स्टैंड पर कायम हैं। शुक्रवार रात को किए गए ट्वीट के बाद शनिवार को एक बार फिर से अपनी बात को दोहराते हुए अलका लांबा ने कहा, ‘सदन में सबके भाषण का विडियो है। इसमें देखा जा सकता है कि जब वह प्रस्ताव पास किया जा रहा था, मैं उस समय सदन में थी। प्रस्ताव की जो कॉपी मुझे मिली थी, जिसमें राजीव गांधी का नाम लिखा हुआ था।’ इस बीच लांबा के आम आदमी पार्टी से इस्तीफे को लेकर सस्पेंस है। खबरें थीं कि उन्होंने विधानसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा दिया है, लेकिन विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल ने इस बात से इनकार किया। इस बीच कांग्रेस नेता अजय माकन ने ‘आप’ पर बरसते हुए उसे बीजेपी की ‘बी’ टीम करार दिया है। कांग्रेस लीडर ने कहा कि आम आदमी पार्टी बीजेपी के इशारे पर काम कर रही है। दिल्ली विधानसभा में नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि आम आदमी पार्टी में लड़ाई चल रही है। कुछ नेता राजीव गांधी पर प्रस्ताव के समर्थन में हैं और कुछ लोग खिलाफ हैं। असल में आप लीडरशिप कांग्रेस के इशारे पर काम कर रही है। वे लोगों को भ्रमित करना चाहते हैं।

Related Post

स्मार्टफोन में बैटरी की समस्या

स्मार्टफोन में बैटरी की समस्या को लेकर हैं परेशान तो ये तरीके आएंगे काम

Posted by - November 17, 2019 0
नई दिल्ली। आजकल भागदौड़ भरी जिंदगी में स्मार्टफोन्स हमारे जीवन का एक अहम हिस्सा बन चुका है। कोई भी जनरेशन…
भागती जनता पार्टी

अखिलेश ने पूछा ‘भागती जनता पार्टी’ के प्रधान जी क्यूं भागते हैं प्रेस वार्ता से ?

Posted by - April 25, 2019 0
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संवाददाता सम्मेलन की चर्चा को लेकर चुटकी…
Kapil Mishra

कपिल मिश्रा ने CM केजरीवाल के खिलाफ पुलिस कमिश्नर को दी शिकायत, FIR करने की मांग

Posted by - April 28, 2021 0
नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (AAP)  छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए कपिल मिश्रा ने बुधवार को दिल्ली के…