Financial

अंतिम समय का न करें इंतजार, 10 लाख रुपये तक का टैक्स बचाने का देखें जुगाड़

47 0

नई दिल्ली: नया वित्त वर्ष 2022-23 एक अप्रेल से शुरू हो चुका है, इसलिए खास खबर है कि अंतिम समय का इंतजार करने की जगह बेहतर होगा कि अभी से अपनी फाइनेंशियल प्लानिंग (Financial planning) शुरू कर दें। इससे न सिर्फ आपको इनकम टैक्स (Income Tax) बचाने में मदद मिलेगी बल्कि इसके लिए अंतिम समय में किए जाने वाले इकट्ठा निवेश से पड़ने वाले आर्थिक बोझ से भी राहत मिलेगी।

नौकरीपेशा लोग सालाना 10 लाख रुपये तक की कमाई पर पूरा इनकम टैक्स बचा सकते हैं। इनकम टैक्स के कई नियमों में टैक्स डिडक्शन की सुविधा है। इनमें धारा 80 सी नौकरीपेशा लोगों में सबसे ज्यादा प्रचलित है। इसके अलावा सेक्शन 80सीसीडी(1बी), होम लोन या एजुकेशन लोन और बीमा पॉलिसी टैक्स बचाने में मददगार है।

यह भी पढ़ें: पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय रक्षा मंत्री से की भेंट, किया अनुरोध

इनकम टैक्स के सेक्शन 87ए के तहत 5 लाख रुपये तक की आय पर कोई टैक्स नहीं लगता है। सबसे पहले 10 लाख रुपये में से 5 लाख को घटा दें तो अब आपकी टैक्स देनदारी सिर्फ 5 लाख रुपये पर ही बनेगी। इसके अलावा नौकरीपेशा या पेंशनधारकों को सालाना 50,000 रुपये स्टैंडर्ड डिडक्शन की सुविधा मिलती है।

यह भी पढ़ें: Fake news पर भारत सरकार का एक्शन, 22 YouTube चैनलों को किया बंद

Related Post