देश को आजादी दिलाने में शामिल सरोजिनी का नाम, जानें उनसे जुडी कुछ खास बातें

465 0

डेस्क। कवयित्री और कलाकार ना जाने कितनी पहचान लिए थी भारत की पहली महिला गवर्नर सरोजिनी नायडू। भारत को आजादी दिलाने में कितने ही वीर सेनानियों का योगदान है, उन्हीं नामों में एक नाम सरोजिनी नायडू का नाम भी आता है। उनके बारे में कुछ खास बातें –

ये भी पढ़ें :-पुरुष प्रधान समाज में महिलाओं की जानें क्या है भूमिका

1-सरोजिनी नायडू देश के स्वतंत्रता आंदोलन में अहम भूमिका निभाने वाली महिलाओं में जानी जाती है। नायडू गांधी के कई सत्याग्रहों में शामिल हुई। 1942 में ‘भारत छोड़ो’ आंदोलन में जेल में भी रही। गांधी के संदेश को नायडू ने गांव-गांव जाकर लोगों को बताया। सरोजिनी नायडू का निधन 2 मार्च 1949 को हुआ।

2-नायडू ने आगे चलकर भारत के पर्वतों, नदियों, मंदिरों पर कई तरह की कविताएं लिखी। सरोजि‍नी नायडू का फारसी नाटक मेहर मुनीर और कविता संग्रह द गोल्डन थ्रैशोल्ड लोगों ने काफी पसंद किया।

3-सरोजिनी ने महज 12 साल की उम्र में मैट्रिक परीक्षा में सफलता हासिल कर ली थी। स्कूल की परीक्षा पास करने के बाद मद्रास प्रेसीडेंसी में एडमिशन लिया जहां भी उन्होंने पहला स्थान हासिल किया।

4-भारत कोकिला के नाम से पहचानी जाने वाली सरोजिनी नायडू हमारे देश की उन महिलाओं में शुमार होती है जिनके हुनर को हर किसी ने माना।

Loading...
loading...

Related Post

विद्यालयों में होने वाली नियुक्ति पर लगी रोक, शिक्षकों को बड़ा झटका

Posted by - October 15, 2019 0
नई दिल्ली। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम की शिक्षक भर्ती नोडल एजेंसी ने शिक्षकों के नियुक्ति पत्र रद्द किए जाने के…