Rupee

डॉलर के मुकाबले नुकसान में पहुंच रहा रुपया, आई बड़ी गिरावट

86 0

नई दिल्ली: डॉलर (Dollar) के मुकाबले भारतीय रुपया (Rupee) नुकसान के स्तर पर गिरता जा रहा है। भारतीय बाजार से लगातार विदेशी निवेशकों के बाहर निकलने से रुपया पिछले कुछ महीनों में कई बार अपने रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गया है। एफपीआई के बाहर निकलने के अलावा रुपये (Rupee) में गिरावट की वजह डॉलर इंडेक्स में बढ़ोतरी और कच्चे तेल का महंगा होना है। आने वाले कुछ महीनों में रुपया चुनौतियों का सामना करेगा और अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 80 के स्तर को छू सकता है।

पिछले कुछ महीनों से लगातार रुपया गिर रहा है। 12 जनवरी, 2022 को रुपया 73.78 डॉलर प्रति डॉलर पर था और तब से यह छह महीने से भी कम समय में 5 रुपये से अधिक गिर गया है। हालांकि, 12 जनवरी से गिरावट लगातार नहीं रही है,पहले यह 12 जनवरी से 8 मार्च के बीच कमजोर होकर 77.13 पर पहुंचा और फिर 5 अप्रैल तक एक महीने के लिए मजबूत होकर 75.23 डॉलर प्रति डॉलर पर पहुंच गया। इसने शुक्रवार को 79.11 के अपने सर्वकालिक निचले स्तर को छुआ। 5 अप्रैल के बाद से रुपये में लगातार गिरावट देखी गई है और तब से यह कई बार सर्वकालिक निचले स्तर को छू चुका है।

गुरदासपुर से पंजाब पुलिस ने बरामद किए 16 किलो हेरोइन

80 पर छुएगा रुपया

अगले 6-9 महीनों में रुपये को वैश्विक अर्थव्यवस्था की सुस्ती, अमेरिकी डॉलर की तरलता में कमी और तेल की ऊंची कीमतों से चुनौतियों का सामना करने पड़सकता है। उन्होंने कहा कि अगर वैश्विक स्तर पर डॉलर में तेजी बनी रहती है रुपया गिरकर 80 तक पहुंच जाएगा।

एंबुलेंस का फीता काटते समय श्रीकांत शर्मा का बढ़ा पारा

Related Post

RIL

9 लाख करोड़ रुपए मार्केट कैप वाली पहली भारतीय कंपनी बनी RIL, रचा इतिहास

Posted by - October 18, 2019 0
नई दिल्ली। रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड अधिक का बाजार पूंजीकरण वाली पहली भारतीय कंपनी बन गई है। कंपनी के तिमाही परिणामों…
Noida-Authority

Noida Authority मुआवजे में 89 करोड़ का घोटाला, CEO ने अधिकरी को सस्पेंड

Posted by - February 25, 2021 0
नोएडा। किसानों को अतिरिक्त मुआवजा बांटने में अनियमितता को लेकर नोएडा प्राधिकरण की CEO ने लापरवाही बरतने वाले अधिकारी कर्मचारी…