Power crisis

नहीं होगी शादी, 12 घंटे ब्लैकआउट! जानिए बिजली संकट के पीछे का कारण

142 0

इस्लामाबाद: प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ (Shahbaz Sharif) के नेतृत्व वाली पाकिस्तान की नवनिर्वाचित सरकार ने देश में भीषण बिजली संकट (Power crisis) को देखते हुए कई सख्त पाबंदियां जारी की हैं। पाकिस्तान (Pakistan) के कुछ हिस्सों में लगातार बिजली कटौती (Power crisis) और ब्लैकआउट ने देश के कर्मचारियों को काफी हद तक अपंग बना दिया है। पाकिस्तान वर्तमान में लंबे समय से बिजली कटौती का सामना कर रहा है, जिसे कई बार 12 घंटे तक बढ़ा दिया जाता है, जिससे देश अंधेरे में डूब जाता है। इसने देश की आर्थिक स्थिति को और खराब कर दिया है और सरकार को संकट से लड़ने के लिए प्रतिबंध जारी करने के लिए मजबूर किया है।

पाकिस्तान के बिजली संकट के पीछे का कारण

देश में बिजली गुल होने का मुख्य कारण बिजली और ऊर्जा स्रोतों की कमी है। पाकिस्तान को ईंधन की भारी कमी का सामना करना पड़ रहा है, जिसके कारण कई राज्यों में 12 घंटे तक ब्लैकआउट हो गया है। ईंधन की कमी के कारण पाकिस्तान में बिजली आपूर्ति बुरी तरह प्रभावित हो रही है। पाकिस्तान में ईंधन की कमी का कारण रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध के कारण वैश्विक ऊर्जा की कमी को बताया गया है।

पाकिस्तान सरकार के अधिकारियों के अनुसार, देश में बिजली का उत्पादन 22,000 मेगावाट था और आवश्यकता 26,000 मेगावाट है। पिछले कुछ दिनों में, मीडिया रिपोर्टों ने सुझाव दिया है कि बिजली की आपूर्ति औसतन 7,800 मेगावाट से कम हो रही है। कराची कथित तौर पर 15 घंटे तक बिजली कटौती का सामना कर रहा था, जबकि लाहौर से 12 घंटे तक बिजली गुल रही। इस संकट से लड़ने के लिए, शहबाज शरीफ सरकार ने देश में बिजली के उपयोग को रोकने के लिए कई कदम उठाए हैं।

लंबे इंतजार के बाद ‘ब्रह्मास्त्र’ का धांसू ट्रेलर रिलीज, अंगारों से खेल रहे शिवा

पाकिस्तान में बिजली संकट को रोकने के लिए उठाए गए कदम

प्रधान मंत्री शहबाज शरीफ के नेतृत्व वाली सरकार ने जनता के लिए कई दिशानिर्देश जारी किए हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि देश में ऊर्जा का उपयोग कम से कम हो क्योंकि वे ईंधन की कमी से जूझ रहे हैं। इनमें से कुछ उपाय हैं-

कई निजी और सरकारी कार्यालयों में वर्क फ्रॉम होम को फिर से लागू किया गया है। इसके अलावा, सरकार ने बिजली के उपयोग को सीमित करने के लिए कुछ छुट्टियों को बहाल करने का भी आदेश दिया है।

देर रात तक चलने वाले विवाह समारोहों पर रोक लगा दी गई है। रात साढ़े आठ बजे के बाद शादियों में नहीं जाने दिया जाएगा।

बिजली की खपत को कम करने के लिए सड़कों पर स्ट्रीट लाइट दिन भर में कई अंतराल पर बंद की जा रही हैं।

देश के कुछ हिस्सों में भीषण गर्मी के बावजूद बिजली संकट के कारण एयर कंडीशनर का उपयोग प्रतिबंधित कर दिया गया है।

‘अग्निपथ योजना’ से भारत की सैन्य ताकत को मजबूती मिलेगी : सीएम धामी

Related Post

तालिबानी सरकार: आतंकी मुल्ला हसन अखुंद की लीडरशिप मे 33 मंत्रियों में से 14 आतंकी

Posted by - September 9, 2021 0
तालिबान की 33 मंत्रियों की सरकार में 14 आतंकी हैं। कई उपमंत्री और गवर्नर भी इनमें शामिल हैं। प्रधानमंत्री मुल्ला…
Imran Khan

प्रधानमंत्री को अगला चुनाव जीतने की इमरान खान ने दी चुनौती

Posted by - June 13, 2022 0
इस्लामाबाद: पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) के अध्यक्ष और पूर्व प्रधान मंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने रविवार को पाकिस्तान में अगला…
ipl schedule pospond

CSK टीम में कोविड-19 पॉजिटिव मामलों को लेकर BCCI ने टाला आईपीएल के शेड्यूल का ऐलान

Posted by - August 29, 2020 0
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन को शुक्रवार को बड़ा झटका तब लगा, जब खबर आई कि चेन्नई सुपरकिंग्स…