Motor

Motor Floater Policy: हर गाड़ियों पर बीमा पॉलिसी की टेंशन खत्म

137 0

नई दिल्‍ली: आपके पास अगर एक से अधिक गाड़ियां हैं तो टेंशन लेने की जरूरत नहीं, एक अच्छी खबर सामने आई है। भारतीय बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने इंश्‍योरेंस कंपनियों को मोटर फ्लोटर इंश्‍योरेंस पॉलिसी (Motor Floater Policy) लॉन्‍च करने की इजाजत दे दी है और एक नोटिफिकेशन भी जारी किया है। आपको अब हर गाडी पर अलग से मोटर इंश्‍योरेंस (Motor Insurance) पॉलिसी लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी। एक ही बीमा पॉलिसी लेकर आप सभी गाड़ियों का बीमा कवर दे सकेंगे।

मोटर फ्लोटर पॉलिसी भी मेडीक्लेम की फ्लोटर पॉलिसी की तरह होती है। एक ही पॉलिसी में एक परिवार के सभी सदस्य को हेल्थ इंश्योरेंस कवर मिलता है, ठीक इसी तरह मोटर फ्लोटर पॉलिसी में एक व्‍यक्ति की सभी गाड़ियों को बीमा सुरक्षा दी जाती है। इसके मुताबिक, अलग-अलग बिमा पर होने वाले खर्चे से छुटकारा मिलेगा। कंपनियां ज्‍यादा गाड़ियों का बीमा होने पर प्रीमियम कम लेगी।

इस नीति के तहत वैश्विक शिक्षा का केन्‍द्र बनेगा देश, आज परिणाम संग प्रमाण जरूरी: पीएम मोदी

IRDAI के नोटिफिकेशन जारी करने के बाद अब इंश्योरेंस कंपनियां मोटर फ्लोटर पॉलिसी के नियम और शर्तें बनाएंगी। सभी गाड़ी एक ही व्यक्ति के नाम रजिस्टर्ड होनी चाहिए, एक जनरल इंश्योरेंस कंपनी के एग्जिक्यूटिव ने बताया कि एक पॉलिसी के तहत 5 गाड़ियों का बीमा हो सकता है। फ्लोटर पॉलिसी टू व्‍हीलर और फोर व्‍हीलर, दोनों के लिए ली जा सकेगी।

देवाधिदेव की नगरी को पीएम मोदी ने दी 1774 करोड़ रुपये के विकास कार्यों की सौगात

Related Post

15वें वित्त आयोग का कार्यकाल

15वें वित्त आयोग का कार्यकाल एक साल बढ़ाने पर केंद्रीय कैबिनेट की लगी मुहर

Posted by - November 27, 2019 0
नई दिल्ली। केंद्र और राज्यों के बीच संसाधन बंटवारे का फार्मूला तय कर रहे 15वें वित्त आयोग का कार्यकाल केंद्र…
मूडीज

Flashback 2019: अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका: मूडीज ने भी घटाया विकास दर अनुमान

Posted by - December 13, 2019 0
नई दिल्ली। रेटिंग एजेंसी मूडीज इंवेस्टर्स सर्विस ने शुक्रवार को भारतीय अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका देते हुए साल 2019 के…
रिजर्व बैंक के नए नियम

डेबिट-क्रेडिट कार्ड के दुरुपयोग पर आज से लगेगी रोक, लागू हुए रिजर्व बैंक के नए नियम

Posted by - March 16, 2020 0
बिजनेस डेस्क। आए दिन डिजिटल ट्रांजेक्शन से हो रहे फ्रॉड को देखते हुए रिजर्व बैंक सख्त हो गया है। डेबिट…