बालाकोट एयरस्ट्राइक

जानें बालाकोट एयरस्ट्राइक की ये आफिसर ​ने कैसे दिया था अंजाम?

370 0

नई दिल्ली। वायु सेना द्वारा बालाकोट में एयरस्ट्राइक की सफलता की कहानी तो हर भारतीय जानता है, लेकिन ये हर कोई नहीं जानता की इस मिशन में एक भारतीय महिला अफसर भी शामिल थी। ये महिला अफसर भारतीय वायु सेना के बालाकोट हवाई अड्डे पर पाकिस्तान की जवाबी कार्रवाई के दौरान उड़ान नियंत्रक थी। ये महिला हैं स्क्वाड्रन ली​डर मिंटी अग्रवाल।

जॉन अब्राहम की बाटला हाउस ने पहले दिन की इतनी कमाई 

बता दें कि युद्ध के दौरान विशिष्ट सेवा के लिए मिंटी को युद्ध सेवा मेडल दिया गया है। वायु सेना की अफसर मिंटी ने मीडिया के साथ अपना एयरस्ट्राइक का अनुभव साझा किया है। उन्होंने कहा कि 26 फरवरी को हमने गैर-सैन्य शिविरों में बालाकोट मिशन को सफलतापूर्वक अंजाम दिया है। हमें पाकिस्तान के द्वारा जवाबी कार्रवाई की उम्मीद थी, हम इसके लिए तैयार थे और उन्होंने सिर्फ 24 घंटे में जवाबी कार्रवाई की।

मिंटी अग्रवाल ने आगे बताया कि हमारे पास कुछ अतिरिक्त विमान थे, जो पाक विमानों को जवाब देने के लिए तैनात थे। हमने बाद में पाक विमानों का मुकाबला करने के लिए इन अतिरिक्त विमानों का इस्तेमाल किया। पाकिस्तान के विमान हमारे विमानों को नष्ट के इरादे से आए थे, लेकिन हमारे पायलटों, नियंत्रकों और टीम की क्षमता के कारण उनके मिशन को विफल कर दिया गया।

उन्होंने बताया कि उन्होंने विंग कमांडर अभिनंदन की भी मदद की थी। उन्होंने कहा कि मैं अभिनंदन को हवाई स्थिति की जानकारी उपलब्ध करा रही थी। इसके साथ-साथ शत्रु विमान के बारे में जानकारी भी मेरे द्वारा अभिनंदन को दी जा रही थी।

Loading...
loading...

Related Post

बार-बार पेशाब का आना

रात के वक्त बार-बार पेशाब का आना होता हैं बड़ी बीमारी का संकेत, तुरंत कराये जांच

Posted by - December 2, 2019 0
हेल्थ डेस्क। ज़्यादातर लोगों को रात के वक्त बार-बार पेशाब आते हैं जिससे वो काफी परेशान होते हैं साथ ही…

इन बीमारियों के लिए वरदान के समान है शंखपुष्पी, जानें इसके फायदे

Posted by - September 22, 2019 0
लखनऊ डेस्क। आजकल की इस भागदौड़ और तनावपूर्ण जिंदगी में शंखपुष्पी का सेवन करना लाभदायक है। शंखपुष्पी का सेवन करने…
गंगा दशहरा

गंगा दशहरा : जानें गंगा नदी को क्यूं कहा जाता है हिंदुस्तान की जीवन रेखा

Posted by - June 1, 2020 0
नई दिल्ली। सोमवार को पूरे देश में गंगा दशहरा श्रद्धापूर्वक मनाया गया। गंगा नदी को हिंदुस्तान की जीवन रेखा कहा…