KCR ने बंपर जीत के साथ सत्ता में की वापसी,सही साबित हुआ ये दांव

552 0

नई दिल्ली। तेलंगाना में के.चंद्रशेखर राव की जीत ने ये साबित कर दिया है कि समय से पहले चुनाव कराने का उनका दांव सही रहा। साथ ही तेलंगाना विधानसभा चुनावों में उनकी पार्टी तेंलगाना राष्ट्र समिति बंपर जीत हासिल करने की राह पर है। केसीआर के समय पूर्व चुनाव कराने के उनके फैसले पर सवाल उठाए गए थे। कहा यह भी गया कि केसीआर को इस बार किसानों की नाराजगी और सत्ता विरोधी लहर का सामना करना पड़ सकता है लेकिन केसीआर की इस जीत से यह जाहिर हो गया है कि वह आज भी राज्य के लोगों की पहली पसंद बने हुए हैं। तेलंगाना की जनता ने कांग्रेस की अगुवाई वाले महागठबंधन ‘महाकुट्टमी’ को खारिज कर दिया। इस चुनाव में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और तेदेपा प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने केसीआर पर तीखे हमले किए और दावा किया कि राज्य में इस बार उनकी सरकार बनेगी।

इतना ही नहीं तेलंगाना के अलग राज्य बनने में केसीआर की अहम भूमिका रही है। बता दें कि जून 2014 में आंध्र प्रदेश से अलग होकर तेलंगाना एक अलग राज्य बना और राज्य के पहले मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव बने। 2014 के विधानसभा चुनाव में टीआरएस ने सर्वाधिक 63 सीटें जीती थीं। लगता है कि तेलंगाना के निर्माण में केसीआर के योगदान को लोगों ने इस बार भी याद किया और अपनी सहानुभूति उन्हें दी। केसीआर ने अपनी चुनावी रैलियों में तेदेपा के मुखिया चंद्रबाबू नायडू पर यह कहते हुए निशाना साधा कि वह बाहरी हैं। उन्होंने कहा कि तेलंगाना की जनता को इस बात की इजाजत नहीं देनी चाहिए कि उन पर शासन किसी और प्रदेश के व्यक्ति का हो। तेलंगाना की जनता आंध्र प्रदेश से अलग होने के लिए लंबा संघर्ष किया जबकि नायडू ने पृथक तेलंगाना का विरोध किया था।

Related Post

नीतीश बोले- महिलाएं शिक्षित होंगी तो जनसंख्या कम हो जाएगी, डिप्टी सीएम बोली- पुरुष हो जागरुक

Posted by - July 13, 2021 0
यूपी में योगी सरकार द्वारा पेश किए गए जनसंख्या नीति को लेकर पूरे देश में चर्चा शुरु हो गई है,…
शबाना आजमी के ड्राइवर पर केस दर्ज

शबाना आजमी मुंबई-पुणे एक्सप्रेस वे पर कार दुर्घटना में घायल

Posted by - January 18, 2020 0
कोल्हापुर । बॉलीवुड अभिनेत्री व गीतकार-शायर जावेद अख्तर की पत्नी शबाना आजमी शनिवार को एक कार दुर्घटना में घायल हो…