पाक ने दी आंतकवादियों को ट्रेनिंग

इमरान खान के भारत पर सियासत करेने वाले बयान पर भड़के नसीरुद्दीन और ओवैसी

601 0

नई दिल्‍ली। पाकिस्‍तान में भले ही कई वज़ीर-ए -आज़म आये, चेहरे भले ही बदले लेकिन पाकिस्‍तान की नियत नहीं बदली। पाकिस्‍तान को लेकर ताजा मामला इमरान खान के बयान को लेकर सामने आया है। इस बयान पर इमरान खान को उन्‍हीं लोगों ने खरी-खरी सुनाई है जिनपर वह सियासत करने लगे निकले थे। दरअसल, इस पूरे मामले को समझने के लिए कुछ दिन पहले का रुख करना होगा।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही बॉलीवुड अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने बुलंदशहर हिंसा पर विवादित बयांन दिया था जिसमे आगजनी की घटना को लेकर अफसोस जताया था। उन्‍होंने अपने बयान में कहा था कि इस दौरान मारे पुलिस इंस्पेक्टरपर भी सियासत की जा रही है। उन्‍होंने अपने बयान में कहा था कि देश के माहौल को देखते हुए अपने बच्चों के लिए चिंतित हैं क्योंकि कल अगर भीड़ उन्हें घेर लेती है और पूछती है कि तुम हिन्दू हो या मुसलमान तो उनके पास इसका कोई जवाब नहीं होगा। मैंने अपने बच्चों को हिंदू या मुस्लिम की तरह नहीं पाला है। उन्होंने कहा, हमने पहले ही देखा है कि एक गाय की मौत आज के भारत में एक पुलिस अधिकारी की जान की तुलना में अधिक महत्वपूर्ण हो गई है। इस बयान के बाद देश के अंदर जमकर बवाल मचा। यहां तक की नसीरुद्दीन शाह को अजमेर में जिस समारोह में शामिल होना था वहां पर मचे बवाल के कारण उनका नाम इसमें शामिल लोगों में से हटा लिया गया। इतना ही नहीं वहां पर पहुंचने के बाद विरोध कर रहे लोगों ने उन्‍हें गाड़ी से भी नहीं उतरने दिया। इस पूरी घटना के बाद नसीरुद्दीन शाह ने कहा कि उनके बयान पर न मालूम क्‍यों उन्‍हें गद्दार समझ लिया गया है।

इसके बाद इस घटना का फायदा पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने हक में उठाना चाहा। उन्‍होंने इस पूरी घटना पर बयान दिया कि वह भारत को बताएंगे कि अल्‍पसंख्‍यकों के साथ कैसा व्‍यवहार करना चाहिए। इस पर शाह ने इमरान खान को जवाब दिया कि वह पहले अपना घर संभाले और भारत के अल्‍पसंख्‍यकों की चिंता छोड़ दें। इमरान खान के बयान पर भारत की तरफ से जवाब देने का दौर सिर्फ यही पर शांत नहीं हुआ। शाह के बाद ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने भारत में अल्संख्यकों की स्थिति पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी। ओवैसी ने ट्वीट कर कहा, ‘पाकिस्तान के संविधान के मुताबिक तो सिर्फ मुस्लिम ही वहां का राष्ट्रपति बन सकता है, जबकि भारत ने वंचित तबके से आने वाले कई राष्ट्रपतियों को देखा है।’ ओवैसी ने कहा है कि इमरान खान को समावेशी राजनीति और अल्पसंख्यकों के अधिकारों के बारे में भारत से सीखना चाहिए।

बहरहाल ये पहला मौका नहीं है कि जब ओवैसी ने पाकिस्‍तान को इस तरह की खरी-खरी सुनाई है। पिछले वर्ष अप्रैल में लोकसभा की कार्रवाई में शामिल होते हुए सांसद ओवैसी ने कुलभूषण जाधव को लेकर भी पाकिस्‍तान को काफी खरी-खरी सुनाई थी। उन्‍होंने इस दौरान पाकिस्‍तान की कोर्ट को बनाना कोर्ट बताया था और गुजारिश की थी कि भारत सरकार जाधव को बचाने के लिए हर संभव कोशिश करे। इसके अलावा अगस्‍त 2017 में ओवैसी ने पाकिस्‍तान के जियो टीवी पर एक लाइव डिबेट के दौरान भी पाकिस्‍तान को काफी कुछ कहा था। इस दौरान उन्‍होंने पाकिस्‍तान की सरकार और नेताओं को यहां तक कहा कि वह भारत के मुसलमानों की फिक्र न करें और अपने यहां की समस्‍याओं के समाधान की फिक्र करें। इस दौरान उन्‍होंने यह भी साफ कर दिया था कि भारत का मुसलमान पाकिस्‍तान के मुसलमानों से ज्‍यादा खुश है और हमेशा ही रहेगा।

बता दें भाजपा ने भी इमरान के बयान पर सख्त टिप्पणी की है। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्र ने कहा कि ओसामा बिन लादेन जैसे आतंकी सरगना को शरण देने वाला पाकिस्तान ‘आतंकिस्तान’ है। वह क्या भारत को इंसानियत का पाठ पढ़ाएगा। उन्होंने कहा कि इमरान खान कांग्रेस को जरूर बहुत कुछ सीखा सकते हैं, जो उन्हें फरिश्ता बताती है। केंद्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि पाकिस्तान के जन्म से ही वहां अल्पसंख्यकों के खिलाफ अत्याचार होता रहा है।

Related Post

गोला-बारूद

पीएम के आवास के पास गोला-बारूद मिलने से हड़कंप, जांच में जुटी पुलिस

Posted by - April 7, 2019 0
इस्लामाबाद। पाकिस्तान के पीएम के निजी आवास के पास से गोला-बारूद मिलने से पूरे पाकिस्तानी महकमे के अंदर हड़कंप मच…

यूपी में कांग्रेस या अखिलेश का ब्राह्मण चेहरा बनेंगे चंद्रशेखर!

Posted by - June 10, 2021 0
लखनऊ।  .. तो क्या  चंद्रशेखर  पंडित भुवनेश्वर दयाल उपाध्याय  (Chandrashekhar Upadhyay) कांग्रेस में जा रहे हैं या  अखिलेश से पुरानी…
Kangana Ranaut

कंगना रनौत ने राजनीति में एंट्री की अटकलों पर लगाई ब्रेक, मुझे उम्मीद है कि न्याय मिलेगा

Posted by - September 13, 2020 0
मुंबई। बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने रविवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की है। इस मुलाकात…