दीपक चाहर

दीपक चाहर ने नहीं ली थी हैट्रिक, ICC और BCCI से हुई से बड़ी भूल

203 0

नई दिल्‍ली। बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 सीरीज के तीसरे और आखिरी मैच में हैट्रिक लेकर दीपक चाहर ने इतिहास रचा। इसके दो दिन बाद ही मैदान पर फिर से कमाल कर दिया था। भारतीय टी20 टीम का अहम हिस्सा बनने वाले चाहर ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में विदर्भ के खिलाफ छह गेंदों पर चार विकेट लिए थे, लेकिन इस मैच में वह तीन दिन में अपनी दूसरी हैट्रिक लेने से चूक गए।

राजस्‍थान की ओर से खेलते हुए इस तेज गेंदबाज ने आखिर की तीन सही गेंदों पर तीन विकेट लिए थे, लेकिन इसके बावजूद वह हैट्रिक लेने से चूक गए। बता दें​ कि चौथी गेंद पर विकेट हासिल करने के बाद उन्होंने एक वाइड गेंद फेंक दी। इसके बाद आखिर की दो गेंदों पर उन्होंंने दो विकेट लिए, लेकिन दो विकेट के बीच फेंकी गई इस वाइड गेंद की वजह से चाहर हैट्रिक लेने से चूक गए। उन्होंने इस मैच में तीन ओवर में 18 रन देकर चार विकेट लिए थे।

नियम के अनुसार अगर गेंदबाज लगातार तीन वैध गेंदों पर तीन विकेट लेता है, तो ही उसे हैट्रिक माना जाएगा, लेकिन यहां चाहर ने एक वाइड गेंद फेंक दी थी। आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर चाहर ने दर्शन नालकंडे को अपना शिकार बनाया। इसके बाद उन्होंने वाइड गेंद फेंकी। अतिरिक्त गेंद पर उन्होंने श्रीकांत और फिर आखिरी गेंद पर अक्षय वाडकर को अपना शिकार बनाया। इससे पहले इस ओवर की पहली गेंद पर उन्होंने रुषभ राठौड़ को आउट किया था।

वाइड गेंद पर भी ऐसे हो सकती है हैट्रिक

हालांकि गेंदबाज के पास वाइड गेंद पर भी हैट्रिक लेने का मौका रहता है, ले‌किन उस ही स्थिति में जब वे बल्लेबाज को स्टंप या हिट विकेट आउट करे। यदि वाइड गेंद लगातार तीन गेंदों का हिस्सा हो तो हैट्रिक का दावा किया जा सकता है। वहीं अगर गेंदबाज इन दोनों में से किसी एक तरह से भी वाइड गेंद पर विकेट नहीं ले पाता है तो वह हैट्रिक का मौका गंवा देता है।

दो दिन पहले ही चाहर ने किया था वर्ल्ड क्लास प्रदर्शन

विदर्भ के खिलाफ सैयद मुश्ताक में शानदार प्रदर्शन करने से दो दिन पहले ही दीपक चाहर ने बांग्लादेश के खिलाफ इतिहास रच दिया था। उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ सात रन देकर छह विकेट लिए थे। चाहर इसके साथ ही इंटरनेशनल टी20 क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले भारत के पहले पुरुष खिलाड़ी भी बने।

इसके साथ ही टी20 में उन्होंने अजंता मेंडिस के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया। मेंडिस ने 2012 में जिम्बाब्वे के खिलाफ 8 रन देकर छह विकेट लिए ‌थे। बांग्लादेश के खिलाफ निर्णायक मुकाबले में दीपक चाहर की घातक गेंदबाजी ने उनकी रैंकिंग में भी काफी सुधार किया। टी20 में गेंदबाजों की रैंकिंग में वह 88 पायदान की छलांग लगाकर 42वें स्‍थान पर पहुंच गए हैं।

Loading...
loading...

Related Post

Stock market

निवेशकों के विश्वास से शेयर बाजारों में तेजी जारी, सेंसेक्स करीब 500 अंक उछला

Posted by - July 21, 2020 0
मुंबई। देश की अर्थव्यवस्था के प्रति निवेशकों की मजबूत धारणा के बीच आज घरेलू शेयर बाजारों में शुरुआती कारोबार में…
श्रीलंका

द. अफ्रीका ने दूसरे वन-डे में श्रीलंका को 113 रन से हराया,वन-डे सीरीज में 2-0 की बना ली बढ़त

Posted by - March 7, 2019 0
स्पोर्ट्स डेस्क। क्विंटन डी कॉक (94) की बेहतरीन पारी और कागिसो रबाडा (3 विकेट) की शानदार गेंदबाजी के दम पर…
rahkim Cornwall

वेस्टइंडीज गेंदबाज रहकीम कॉर्नवाल टेस्ट करियर को करना चाहते है मजबूत

Posted by - August 31, 2020 0
ऐसे समय में जब ज्यादातर युवा क्रिकेटर टी20 लीग में खेलकर जल्दी से जल्दी पैसा कमाना चाहते हैं, तब वेस्टइंडीज के…