जीएसटी काउंसिल की बैठक में कंपनियों को मिली बड़ी राहत

414 0

नई दिल्ली। जीएसटी काउंसिल की बैठक में आज यानी शुक्रवार को फिटमेंट कमेटी की सिफारिशों पर आखिरी फैसला लिया गया। आर्थिक विकास की सुस्त रफ्तार के चलते कई सेक्टर टैक्स घटाने की मांग कर रहे थे। अप्रैल-जून में आर्थिक वृद्धि दर घटकर पांच फीसदी पर आ गई।

ये भी पढ़ें :-वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के एलान से शेयर बाजार में भारी उछाल 

आपको बता दें उन्होंने बताया कि घरेलू कंपनियों और नई मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों के लिए अध्यादेश के जरिए कॉर्पोरेट टैक्स घटाया जाएगा। घरेलू कंपनियां अगर अन्य कोई छूट नहीं लेती हैं तो उन्हें सिर्फ 22% टैक्स देना होगा। सरचार्ज और सेस मिलाकर प्रभावी टैक्स दर 25.17% होगी। कंपनियां अगर अभी छूट ले रही हैं तो वे टैक्स हॉलिडे की एक्सपायरी के बाद कम टैक्स दरों का विकल्प चुन सकेंगी। नई टैक्स दरें 1 अप्रैल से प्रभावी मानी जाएंगी।

ये भी पढ़ें :-त्योहारों से पहले सरकार का बड़ा तोहफा, सस्ती हुई LED और LCD टीवी 

जानकारी के मुताबिक इससे पहले वित्त वर्ष 2012-13 की जनवरी से मार्च अवधि में देश की आर्थिक वृद्धि दर सबसे निचले स्तर 4.9 फीसदी पर रही थी। एक साल पहले 2018-19 की पहली तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर आठ फीसदी के उच्च स्तर पर थी।

 

 

Related Post

लालकृष्ण आडवाणी

अयोध्या के फैसले पर लालकृष्ण आडवाणी ने भगवान का बोला शुक्रिया

Posted by - November 9, 2019 0
नई दिल्ली। अयोध्या भूमि विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी…