चेन्नई ने जीता IPL का खिताब, धोनी बोले- केकेआर थी दावेदार

202 0

दुबई। इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन के फाइनल में दुबई में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने कोलकाता नाइट राइडर्स को 27 रन से हराते कर चौथी बार आइपीएल खिताब जीता लिया। चेन्नई सुपर किंग्स ने पहले खेलते हुए 3 विकेट पर 192 रन बनाए थे जिसके बाद कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम 20 ओवर में 9 विकेट पर 165 रन ही बना सकी। इस जीत के साथ ही एमएस धोनी की टीम ने फिर से अपनी काबिलियत साबित कर दी है। पिछले सीजन (2020) में आइपीएल से बाहर होने वाली चेन्नई पहली टीम थी और इस बार खिताब जीतकर पहला स्थान हासिल किया है।

आईपीएल के 14वें सीजन का खिताब जीतने के बाद धोनी ने कहा कि पिछले साल प्लेऑफ में जगह बनाने से चूकने के बाद उनके लिए अच्छी वापसी करना महत्वपूर्ण था और उन्हें खुशी है कि उनकी टीम इसमें सफल रही और चैम्पियन बनी।

धोनी ने मैच के बाद कहा, चेन्नई पर बात करने से पहले मैं केकेआर पर बात करना चाहूंगा। अगर कोई टीम इस आईपीएल में खिताब की दावेदार थी तो वह केकेआर थी। उसने बेहतरीन वापसी की। मुझे लगता है कि ब्रेक से उन्हें फायदा मिला। उन्होंने कहा, जहां तक चेन्नई की बात है तो आंकड़ों में हम लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीम हैं, लेकिन हम फाइनल में हारते रहे। विरोधी टीम को हावी नहीं होने देने वाले पहलू पर हम सुधार करना चाहते थे। हमने ऐसा किया। हमारे लिए अच्छी वापसी करना महत्वपूर्ण था।

चेन्नई ने कोलकाता को 192 रन का दिया स्कोर

चेन्नई ने पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किए जाने पर फाफ डुप्लेसिस के 86 और शीर्ष क्रम के अन्य बल्लेबाजों के उपयोगी योगदान से तीन विकेट पर 192 रन बनाए। इसके जवाब में केकेआर के शुभमन गिल (51) और वेंकटेश अय्यर (50) ने पहले विकेट के लिए 91 रन जोड़कर अच्छी शुरुआत दिलाई, लेकिन उसकी टीम आखिर में 9 विकेट पर 165 रन ही बना पाई।

आज का दिन मेरा नहीं था- मॉर्गन

केकेआर के कप्तान इयोन मॉर्गन ने कहा कि आज का दिन उनका नहीं था लेकिन वह अपनी टीम के प्रदर्शन से खुश हैं। मॉर्गन ने कहा, खिलाड़ियों ने जिस तरह का जज्बा दिखाया उस पर मुझे बहुत गर्व है। आज का दिन दुर्भाग्य से हमारा नहीं था। वेंकटेश इस मंच पर नए हैं, लेकिन उनका भविष्य उज्ज्वल है। शुभमन गिल और राहुल त्रिपाठी ने बेजोड़ प्रदर्शन किया।

चेन्नई के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने कहा, हम कई बार फाइनल में पहुंचे, लेकिन अंतिम बाधा पार करना महत्वपूर्ण था। उम्रदराज खिलाड़ियों के चयन को लेकर आलोचना भी हुई, लेकिन उन्होंने सही समय पर अच्छा प्रदर्शन किया। युवा खिलाड़ियों का महत्व है लेकिन अनुभव बेहद महत्वपूर्ण होता है।

केकेआर के मुख्य कोच ब्रैंडन मैक्कुलम ने कहा, हमारा सफर शानदार रहा और मुझे अपने खिलाड़ियों पर गर्व है, लेकिन बेहतर प्रदर्शन करने वाली टीम जीती और चेन्नई चैम्पियन टीम की तरह खेली। हमने दूसरे चरण में जैसा प्रदर्शन किया उस पर हमें गर्व होना चाहिए।

अपनी शानदार 86 रनों के लिए मैन ऑफ द मैच चुने गए डुप्लेसिस ने कहा, यह शानदार दिन था। आईपीएल में 100वां मैच था और मेरे लिए खास दिन था। मैं लंबे समय से चेन्नई के साथ हूं और यह समय शानदार रहा। ऋतुराज प्रतिभाशाली है। उनका भविष्य उज्ज्वल है।

गौरतलब है कि धौनी की कप्तानी के सामने मोर्गन पूरी तरह से फीके नजर आए तो वहीं माही सबसे बड़ी उम्र में आइपीएल फाइनल खिताब जीतने वाले कप्तान भी बने। चेन्नई ने इससे पहले साल 2010, 2011 और 2018 में खिताब जीते थे। खिताब जीतने वाली टीम सीएसके को 20 करोड़ रुपये ईनाम के तौर पर दिए गए तो वहीं उप-विजेता टीम केकेआर को 12.5 करोड़ रुपये मिले।

इस मैच में डुप्लेसिस को उनकी बेहतरीन पारी के लिए प्लेयर आफ द मैच का खिताब दिया गया।  इसके अलावा रितुराज गायकवाड़ को इमर्जिंग प्लेयर आफ द सीजन का खिताब मिला। राजस्थान रायल्स ने इस सीजन में फेयरप्ले का अवार्ड अपने नाम किया। दिल्ली के बल्लेबाज शिमरोन हेटमायर को सुपर स्ट्राइकर आफ द सीजन का खिताब मिला और उनका स्ट्राइक रेट 168 का रहा। हर्षल पटेल गेम चेंजर आफ दी सीजन का खिताब जीतने में सफल रहे साथ ही वो प्लेयर आफ द सीरीज भी बने। वेंकटेश अय्यर पावर प्लेयर आफ द सीजन बने।

रवि बिश्नोई इस सीजन में सबसे बेहतरीन कैच पकड़ने वाले फील्डर करार दिए गए। उन्होंने अहमदाबाद में सुनील नरेन का कैच डीप मिड-विकेट पर फुल लेंथ डाइव करते हुए लिया था। आइपीएल 2020 में केएल राहुल सबसे ज्यादा छक्के (30) लगाने वाले खिलाड़ी रहे। वहीं 32 विकेट लेने वाले हर्षल पटेल ने पर्पल कैप तो वहीं सबसे ज्यादा 635 रन बनाने वाले रितुराज गायकवाड़ ने आरेंज कैप हासिल किया। हर्षल पटेल मोस्ट वैल्यूएबल प्लेयर आफ दी सीन भी रहे।

Related Post

कोरोनावायरस

पीएम मोदी जन औषधि दिवस पर बोले- कोरोना की अफवाहों से बचें, नमस्ते की आदत डालें

Posted by - March 7, 2020 0
नई दिल्ली। कोरोना वायरस के वैश्विक संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जन औषधि दिवस पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए…