चंद्रिमा शाहा

विज्ञान अकादमी की पहली महिला अध्यक्ष चंद्रिमा शाहा की नियुक्ति

318 0

नई दिल्ली। देश में महिलाएं हर क्षेत्र में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने में पीछे नहीं हैं। चाहे वह साहित्य या फिर विज्ञान का क्षेत्र हर जगह अपनी मेधा को लोहा मनवा रहीं हैं।केंद्र की मोदी सरकार ने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इम्यूनोलॉजी की पूर्व निदेशक चंद्रिमा शाहा को भारतीय राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी (इंसा) का पहला महिला अध्यक्ष चुना है।

आराम भरी जिंदगी और अपनी लग्जरी लाइफ के लिए जानी जाती है ये महिला

चंद्रिमा शाहा 2020 में अपना कार्यभार ग्रहण करेंगी

इंसा की वेबसाइट के मुताबिक शाहा 2020 में अपना कार्यभार ग्रहण करेंगी। बता दें कि बतौर अध्यक्ष उन पर विज्ञान को जनसमूहों के बीच प्रचलित करने की जिम्मेदारी होगी। इसके साथ ही उन्हें विदेशी संस्थानों के साथ करार पर अधिक ध्यान देना होगा।

महिलाएं खुद उठायें ये कदम, जिंदगी होगी बेहतर

1984 से नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इम्यूनोलॉजी में हैं प्रोफेसर 

बता दें कि शाहा 1984 में अपनी शोध करने के बाद भारत लौटी थीं। तब से वह नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इम्यूनोलॉजी में प्रोफेसर हैं। इंसा की स्थापना जनवरी 1935 में भारत में विज्ञान को बढ़ावा देने और मानवता व राष्ट्रीय विकास के लिए वैज्ञानिक ज्ञान को बढ़ाने के लिए की गई थी।

Loading...
loading...

Related Post