तालिबानी लड़ाकों को अफगानिस्तान में भारतीय संपत्ति टारगेट करने का निर्देश

151 0

अफगानिस्तान में आतंकी गुट तालिबान में बड़ी संख्या में शामिल हुए पाकिस्तानी लड़ाकों को बीते कुछ वर्षों में युद्धग्रस्त अफगानिस्तान में भारत द्वारा निर्मित संपत्तियों को टारगेट करने के लिए कहा गया है। यह निर्देश इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) द्वारा दिया गया है।

आपको बता दें कि भारत सरकार ने पिछले दो दशकों से अफगानिस्तान के पुनर्निर्माण के प्रयास में 3 बिलियन अमरीकी डॉलर से अधिक का निवेश किया है। डेलाराम और जरांज सलमा बांध के बीच 218 किलोमीटर की सड़क और अफगान संसद भवन, जिसका उद्घाटन 2015 में किया गया था, अफगान लोगों के लिए भारतीय योगदान के सबसे बड़े प्रतीक हैं।

एक अनुमान और इनपुट के अनुसार, अशरफ गनी के नेतृत्व वाली अफगानिस्तान सरकार के खिलाफ तालिबान के हमले का खुलकर समर्थन करने के लिए 10,000 से अधिक पाकिस्तानियों ने अफगानिस्तान में युद्ध क्षेत्र में प्रवेश किया है।

इनपुट के अनुसार, पाकिस्तानी और तालिबान लड़ाकों को विशेष निर्देश के साथ भारत द्वारा निर्मित संपत्तियों को टारगेट करने और वहां भारतीय सद्भावना के किसी भी संकेत को मिटाने के लिए भेजा गया है। अफगानिस्तान की निगरानी करने वाले सरकारी सूत्रों ने एएनआई को यह जानकारी दी है।

भारत ने अफगानिस्तान में शिक्षा के क्षेत्र में बहुत बड़ा योगदान दिया था। शिक्षकों और सहायक कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने में एक बड़ी भूमिका निभाई थी। हक्कानी नेटवर्क सहित पाकिस्तान समर्थित इस्लामिक आतंकवादी समूह वहां भारत के खिलाफ वर्षों से अत्यधिक सक्रिय हैं।

भारतीय पक्ष इस मुद्दे पर भी असमंजस में है कि क्या उन्हें काबुल में अपनी उपस्थिति बनाए रखने की अनुमति दी जाएगी क्योंकि अभी तक अति-कट्टरपंथी इस्लामी समूह द्वारा कोई आश्वासन या संकेत नहीं दिया गया है, जिसे भारत के विरोध के रूप में देखा गया है।

मुंबई जलमग्न , बादल फटे और अब तक 25 लोगों की जान गई

भारतीय एजेंसियां ​​काबुल हवाईअड्डे पर भी स्थिति पर करीब से नजर रखे हुए हैं, जो अब बहुत लंबे समय तक अमेरिकी सुरक्षा में नहीं रहने वाला है। बगराम हवाई अड्डे सहित अमेरिकियों के अधीन कई हवाई क्षेत्र तालिबान के साथ चल रहे सत्ता संघर्ष के कारण खाली कर दिए गए हैं।

Related Post

पुरुषों की दाढ़ी

रिसर्च में खुलासा : पुरुषों की दाढ़ी में कुत्ते के बाल से ज्यादा खतरनाक बैक्टीरिया

Posted by - April 27, 2019 0
नई दिल्ली। वर्तमान समय में फैशन ट्रेंड में काफी बदलाव आए हैं। पहले जहां पुरुष क्लीन शेव रहना पसंद करते…
स्वास्थ्य केंद्र के बाहर बलात्कार पीड़िता के पिता की सड़क दुर्घटना में मौत

स्वास्थ्य केंद्र के बाहर बलात्कार पीड़िता के पिता की सड़क दुर्घटना में मौत

Posted by - March 11, 2021 0
घाटमपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के बाहर एक बलात्कार पीड़िता  के पिता की बुधवार को कथित तौर पर सड़क दुर्घटना में…